1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चुनाव हारने के बाद क्या कर रही हैं हिलेरी?

डॉनल्ड ट्रंप तो अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद अपने फैसलों से दुनिया भर में धूम मचाए हुए हैं, लेकिन उन्हें चुनाव में टक्कर देने वाली डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन आजकल क्या कर रही हैं?

कड़े चुनावी मुकाबले में मात खाने के बाद क्लिंटन इन दिनों अपनी जिंदगी पर एक किताब लिखने में व्यस्त हैं. इस किताब में वह 2016 की चुनावी मुहिम और अपने भविष्य के बारे में लिख रही हैं. पब्लिशिंग हाउस सिमोन एंड शुस्टर का कहना है कि इस किताब को अभी कोई शीर्षक नहीं दिया गया है, लेकिन यह 2017 में ही प्रकाशित होगी. इस किताब में हिलेरी अपने कही कुछ पसंदीदा बातों यानी कोटेशंस को दुनिया को सामने रखेंगी.

नवंबर में चुनाव हारने के बाद हिलेरी क्लिंटन सार्वजनिक रूप से बहुत कम नजर आई हैं. अमेरिका की पहली महिला राष्ट्रपति बनने का उनका सपना अधूरा रह गया. प्रकाशक की तरफ से जारी एक बयान में क्लिंटन ने कहा, "इन कोट्स ने मुझे जिंदगी को भरपूर तरीके से जीने में मदद की, कभी मैं इन्हें लेकर हंसी तो कभी मुश्किल समय में इन्होंने मेरा साथ दिया. इन्होंने मुझे जिंदगी की अहमियत को सिखाया."

देखिए हिलेरी क्लिंटन की जिंदगी के 15 तूफान

इससे पहले भी क्लिंटन पांच किताबें लिख चुकी हैं. उनकी पिछली किताब "हार्ड चॉइस" 2014 में प्रकाशित हुई थी. उनकी अन्य किताबों में "एन इन्विटेशन टु द व्हाइट हाउस" और "इट टेक्स अ विलेज" के नाम शामिल हैं. उनकी सभी किताबें सिमोन एंड शुस्टर ने छापी हैं.

सिमोन एंड शुस्टर का कहना है कि कोट्स पर आधारित इस किताब की बात सबसे पहले 1994 में हुई थी, जब हिलेरी क्लिंटन अमेरिका की प्रथम महिला थीं. लेकिन अब जाकर वह इस किताब के लिए तैयार हुई हैं.

अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री क्लिंटन 8 नवंबर के चुनाव में हारने के बाद सार्वजनिक रूप से इक्का दुक्का बार ही दिखाई दी हैं. लेकिन जनवरी में राष्ट्रपति ट्रंप के शपथ ग्रहण समारोह में वह शामिल हुई थीं. ट्रंप ने चुनाव के प्रचार के दौरान भले ही उन्हें बुरा भला कहा, लेकिन शपथ ग्रहण में शामिल होने के लिए हिलेरी और उनके पति बिल क्लिंटन का "तहे दिल से" शुक्रिया अदा किया.

मिलिए कीर्तिमान बनाने वाली महिलाओं से 

जब ट्रंप ने सात मुस्लिम बहुल देशों के लोगों के अमेरिका आने पर रोक लगाने वाले अध्यादेश निकाला तो इसका विरोध करने वालों में हिलेरी क्लिंटन भी शामिल थीं. इस मुद्दे पर अमेरिका के कई शहरों में हुए प्रदर्शनों पर उन्होंने ट्वीट किया, "हमारे मूल्यों और संविधान की रक्षा के लिए देश में जो लोग जमा हो रहे हैं, मैं उनके साथ खड़ी हूं."

एके/वीके (डीपीए एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री