1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जन्मदिन की उलझन: एक बार फिर अडल्ट हुआ गूगल

इंटरनेट कंपनी गूगल 18 साल की हो गई है. लेकिन उसके जन्मदिन में बड़ा झोल है. शायद खुद गूगल को नहीं पता कि उसका सही जन्मदिन कब होता है.

गूगल के मुताबिक वह कंपनी वयस्क हो गई है. उसकी उम्र 18 साल हो गई है. इंटरनेट की भीमकाय कंपनी गूगल मंगलवार 27 सितंबर 2016 को अपना जन्मदिन मना रही है. इसके लिए गूगल ने एक नया डूडल भी बनाया है जिसमें जी बाजे वाला गुब्बार फुला रहा है.

लैरी पेज और सर्गई ब्रिन ने 1998 में गूगल की स्थापना की थी. हर साल 27 सितंबर को गूगल अपने होम पेज पर कुछ अलग अंदाज में अपना जन्मदिन मनाता है. लेकिन गूगल के जन्मदिन में कुछ अस्पष्टता भी है. 27 सितंबर की यह तारीख 2006 से इस्तेमाल हो रही है. इससे पहले गूगल ने 26 सितंबर को अपना जन्मदिन मनाया. और 2004 में, जब गूगल 6 साल का हुआ था तब उसने 7 सितंबर को खुद को हैपी बर्थडे बोल दिया था. उससे पिछले साल हैपी बर्थडे 8 सितंबर को हुआ था. और दिलचस्प बात है कि कंपनी के इतिहास में इसका कॉरपोरेट बर्थडे 4 सितंबर का लिखा हुआ है.

तस्वीरों में: ये हैं इंटरनेट की सबसे बड़ी कंपनियां

लेकिन कन्फ्यूजन यहीं खत्म नहीं होता. अगर गूगल के डोमेन का रजिस्ट्रेशन कुछ अहमियत रखता है तो कंपनी पिछले साल ही 18 की हो चुकी है क्योंकि डोमेन 15 सितंबर 1995 को रजिस्टर हुआ था. लेकिन अब तक बताया जाता रहा है कि गूगल का विचार 1996 में आया था जब पेज और ब्रिन स्टैन्फर्ड यूनिवर्सिटी में एक प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे. तब उन्होंने ऐसा सर्च इंजन बनाने की सोची थी जो पेजों की रैंकिंग अन्य साइट्स से उसकी लिंकिंग के आधार पर करेगा. इससे पहले के सर्च इंजन उस पेज को पहले दिखाते थे जिसके बारे में ज्यादा सर्च किया गया है.

अगर गूगल के वाकई शुरू होने की कोई तारीख है तो यह सच में एक नहीं हो सकती क्योंकि कंपनी के लिए अगस्त 1998 में पेज और ब्रिन को एक लाख डॉलर का पहला निवेश मिला था. यह चेक गूगल इंक के नाम था लेकिन तब गूगल इंक नाम की कोई कंपनी ही नहीं थी. कंपनी उसके अगले महीने यानी सितंबर 1998 में कैलिफॉर्निया में रजिस्टर हुई, तब उसका बैंक खाता खुला और उसमें चेक डाला गया.

देखिए, ऐसा होगा हमारा गूगल फ्यूचर

2013 में गूगल ने जन्मदिन को लेकर इस पूरे घालमेल पर बात भी की थी. कंपनी ने माना था कि उसने चार अलग-अलग तारीखों पर अपने जन्मदिन मनाए हैं. लेकिन अब कंपनी 27 सितंबर पर टिक गई लगती है. लिहाजा, गूगल (चौथी बार ही सही) आखिरकार अडल्ट हो गई है.

रिपोर्ट: विवेक कुमार

DW.COM

संबंधित सामग्री