1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

इंडोनेशिया के आचेह में भूकंप, 100 से ज्यादा लोगों की मौत

इंडोनेशिया के आचेह में आए जबरदस्त भूकंप में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. सैकड़ों लोग घायल हैं और मलबे के नीचे दबे लोगों के कारण मरने वालों की संख्या में भारी इजाफा हो सकता है.

बुधवार सुबह आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.4 आंकी गई.

टीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि पीडी जया पीडी जिले में दर्जनों इमारतें जमींदोज हो गई हैं. दुकानें, मस्जिदें और घर पूरी तरह मलबे में तब्दील हो गए हैं. पीडी जया पीडी सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है. यहां सड़कों पर बड़ी बड़ी दरारें पड़ गई हैं. अभी तक लगभग 300 लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है जिनमें से 73 की हालत गंभीर है. आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो नूग्रोहो ने बताया कि 125 घर, 105 दुकानें और 14 मस्जिदें नष्ट हो गई हैं.

देखिए, भूकंप से पहले और भूकंप के बाद

बचाव दल के प्रमुख सुयित्नो ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग मलबे के नीचे दबे हैं. उन्होंने बताया, "जो दुकानें गिरी हैं, उनमें बहुत सी ऐसी हैं जिनके ऊपर ही दुकानदारों के घर भी थे. हमने मलबा हटाने का काम शुरू कर दिया है. इसके लिए तीन मशीनें भेजी गई हैं."

भूकंप स्थानीय समय के मुताबिक सुबह 5 बजकर 3 मिनट पर आया. भूकंप का केंद्र पीडी जया के उत्तर में 18 किलोमीटर दूर जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था. भूकंप जोरदार था लेकिन सूनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है. जानों का नुकसान इस वजह से भी कम हुआ क्योंकि तब ज्यादातर लोग नमाज के लिए जगे हुए थे. आचेह में एक डॉक्टर अमांडा ने बताया, "मैं बहुत ज्यादा डर गई थी. मैं अब तक भी कांप रही हूं."

तस्वीरों में: आग, तूफान और भूकंप से लड़ने वाले घर

इंडोनेशिया पैसिफिक रिंग ऑफ फायर पर स्थित है. यह ऐसा इलाका है जहां भूकंप और ज्वालमुखीय विस्फोटों का खतरा लगातार बना रहता है. 26 दिसंबर 2004 को सुमात्रा द्वीप पर 9.1 की तीव्रता वाला भूकंप आया था जिसके बाद सूनामी ने कहर बरपाया था. इससे 11 देशों में दो लाख 30 हजार लोगों की मौत हो गई थी. आचेह प्रांत में ही मरने वालों की तादाद एक लाख 80 हजार थी.

वीके/एके (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री