1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चीन का ऑनलाइन क्रेज उफान पर

चीन में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या कई गुना तक बढ़ गई है. विश्व की इस दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में ई-कॉमर्स के प्रति लोगों का बढ़ता रुझान जीडीपी के लिए भी कारगर साबित हो रहा है.

चीन में इंटरनेट यूजर्स की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. चीन इंटरनेट नेटवर्क इन्फॉरमेशन सेंटर (सीएनएनआईसी) ने साल 2016 के जारी आंकड़ों में जानकारी दी कि देश में यूजर्स की संख्या ने 73.1 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है. संस्था के मुताबिक दिसंबर 2015 के बाद देश में यूजर्स की संख्या में 6.2 फीसदी का इजाफा हुआ है और अब यह यूरोप के बराबर है.

सीएनएनआईसी के मुताबिक ई-कॉमर्स के चलते उपभोक्ताओं की मांग में भारी इजाफा हुआ है. पिछले साल मोबाइल फोन के जरिये ऑनलाइन रहने वालों की संख्या 69.5 करोड़ रही थी.

तस्वीरों में: कहां गोली की रफ्तार से चलता है इंटरनेट

दिसंबर 2016 तक चीन में ऑनलाइन भुगतान करने वालों की संख्या 47.5 करोड़ तक पहुंच गई थी और इसमें साल दर साल 14 फीसदी की बढ़ोतरी हो रही है. अर्थव्यवस्था में ऑनलाइन तकनीकों के दायरे को बढ़ाने के लिए सरकार अपनी `इंटरनेट प्लस´ परियोजना पर खासा जोर दे रही है.  हालांकि सरकार नागरिकों को फेसबुक और गूगल जैसी प्रमुख साइट्स के लिए इजाजत नहीं देती. यूजर्स के बढ़ते रुझान का असर जीडीपी वृद्धि दर पर भी साफ नजर आ रहा है.

जानिए, कहां कितने लोग ऑनलाइन हैं

यह चीन में ऑनलाइन शॉपिंग के बढ़ते क्रेज का ही नतीजा है कि पिछले साल 11 नवंबर को ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा के एक शॉपिंग प्रमोशन के दौरान लोगों ने 16.7 अरब यूरो खर्च किए थे. यह बिक्री साल 2016 में अमेरिका में थैंक्सगिविंग के दौरान हुई बिक्री से भी अधिक है.

एए/वीके (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री