1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मिलान में मारा गया बर्लिन का संदिग्ध हमलावर आमरी

इटली के गृह मंत्री मार्को मिनिटी ने कहा है कि मिलान में पुलिस के साथ हुई गोलीबारी में बर्लिन में क्रिसमस बाजार पर हमला करने वाला संदिग्ध अनीस आमरी मारा गया है. 

पुलिस सूत्रों के अनुसार मिलान में मारे गए शख्स की अंगुलियों के निशान के आधार पर बर्लिन के हमलावर अनीस आमरी के रूप में पहचान हुई. जर्मनी के संघीय अभियोक्ता दफ्तर ने कहा है कि वे इटली के अधिकारियों के साथ संपर्क में हैं.

यह गोलीबारी मिलान के इलाके सेस्तो सान गिओवानी के पास तड़के तीन बजे हुई. इस घटना में एक पुलिसकर्मी के घायल होने की भी खबर है. इतालवी समाचार एजेंसी अंसा ने खबर दी है कि जब एक व्यक्ति से उसका पहचान पत्र मांगा गया तो उसने कमर के पीछे से गन निकाल ली, जिसके बाद हुई गोलीबारी में वह मारा गया.

24 वर्षीय ट्यूनीशियाई आमरी बर्लिन के क्रिसमस बाजार में लोगों पर ट्रक चढ़ाने का संदिग्ध था जिसमें 12 लोग मारे गए. इसके पहले डेनमार्क की पुलिस ने कहा था कि आमरी की शक्ल से मिलने वाला एक इंसान डेनमार्क के शहर आलबोर्ग में देखा गया है. पुलिस ने लोगों से उस इलाके से बचने को कहा क्योंकि पुलिस कार्रवाई चल रही है.

Infografik Anis Amri Aktualisierung nach Tötung in Mailand ENGLISCH

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ट्यूनिशियाई नागरिक आमरी को शुक्रवार तड़के मिलान रेलवे स्टेशन के पास रूटीन चेक के लिए रोका गया. पहचान दिखाए जाने को कहे जाने के बाद उसने पिस्तौल निकाल ली और एक पुलिसकर्मी को घायल कर दिया जिसके बाद वह पुलिस कार्रवाई में मारा गया.

अनीस आमरी कई साल तक इटली में रहा था. इसमें से कुछ समय वह जेल में था. 2015 में वह फ्राइबुर्ग के रास्ते जर्मनी आया और शरण का आवेदन दिया. बर्लिन हमले में उसका हाथ होने का संकेत जांच अधिकारियों को तब मिला जब जर्मनी में रिहाइश से संबंधित उसके कागजात हमले में इस्तेमाल ट्रक में मिले. यह सबूत हमले के एक दिन बाद मंगलवार को मिला क्योंकि हमले के तुरंत बाद ट्रक के ड्राइवर केबिन को सील कर दिया गया था.

एके/एमजे (एपी)

संबंधित सामग्री