1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बाल इतने छोटे कर दो कि कोई पकड़ कर खींच न पाए..

बांग्लादेश का एक विज्ञापन इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जो महिलाओं के खिलाफ हिंसा को लेकर एक दमदार संदेश देता है.

लैंगिक बराबरी और समान अधिकारों को लेकर बरसों से चल रही बहस के बावजूद महिलाओं के खिलाफ हिंसा एक कड़वा सच है. विकासशील ही नहीं, बल्कि विकसित देशों में भी महिलाओं के साथ ज्यादती होने के मामले सामने आते हैं. बांग्लादेश में तेल बनाने वाली एक कंपनी ने अपने एक विज्ञापन में इसी बात को उठाया है. वीडियो देखिए.

वीडियो में देखा जा सकता है कि एक महिला सैलून में बाल कटाने जाती है. बाल काटने वाली पूछती है कि इतने सुंदर बाल आप क्यों कटाना चाहती हैं. "क्या आप जिम जाती हैं?" वह महिला कहती है, नहीं. कटिंग करने वाली महिला बालों को थोड़ा सा छांट कर पूछती है, "अब ठीक है?" जवाब मिलता है, "और छोटे करो". कटिंग करने वाली महिला फिर थोड़े थोड़े बाल काटने के बाद वही सवाल बार बार पूछती है और उसे हर बार जवाब भी वही मिलता है, "और छोटे करो." आखिर में वह महिला कहती है कि बालों को इतना छोटा कर दो कि इन्हें पकड़कर कोई खींच न पाए.

विज्ञापन के आखिर में संदेश है, "बाल, महिलाओं का गर्व हैं, इन्हें उनकी कमजोरी का कारण मत बनने दीजिए. 100 में से 80 महिलाओं को अपनी जिंदगी में किसी न किसी तरह हिंसा का शिकार बनना पड़ता है."

एके/आरपी