1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सुषमा स्वाराज की नाराजगी के बाद अमेजन ने हटाए पायदान

ऑनलाइन रीटेल वेबसाइट अमेजन ने उन पायदानों को हटा लिया है, जिन पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज बना हुआ था. अमेजन की कनाडाई वेबसाइट पर ये पायदान बिक रहे थे जिन पर भारतीय झंडे की तस्वीरें बनी हुई थीं.

भारत सरकार ने इस पर आपत्ति जताई थी और धमकी दी थी कि यदि अमेजन ने इन पायदानों को बेचना फौरन बंद नहीं किया तो अमेजन कंपनी के कर्मचारियों को मिला भारतीय वीसा रद्द किया जा सकता है. भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस बारे में ट्विटर पर लिखा, "अमेजन को बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए. उन्हें ऐसे सारे उत्पाद फौरन हटाने होंगे जो हमारे राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करते हैं."

बुधवार को यह विवाद होने के बाद शाम तक ये उत्पाद वेबसाइट पर नजर आने बंद हो गए. हालांकि वेबसाइट ने इस बात की पुष्टि नहीं की कि ये उत्पाद हटा लिए गए हैं. अमेजन पर ये उत्पाद किसी और कंपनी ने अपलोड किए थे क्योंकि अमेजन सभी विक्रेताओं को अपने उत्पाद बेचने की जगह उपलब्ध कराता है. लेकिन बुधवार शाम तक सर्च करने पर भी ऐसा कोई पायदान वेबसाइट पर नजर नहीं आ रहा था. इससे पहले सुषमा स्वराज ने सख्त शब्दों में अमेजन को चेतावनी दी थी. उन्होंने लिखा, "अगर फौरी तौर पर ऐसा नहीं किया गया तो हम अमेजन के किसी अधिकारी को वीसा नहीं देंगे. जो पहले से दिए गए वीसा हैं वे भी वापस ले लिए जाएंगे."

वैसे कनाडा में अमेजन कई तरह के पायदान बेचता है. इनमें कई देशों के झंडों वाले पायदान शामिल हैं. आपत्ति सिर्फ भारत से हुई है. भारतीय कानून के मुताबिक इसके राष्ट्रीय ध्वज को अपमानित करना एक अपराध है जिसके लिए जेल और जुर्माना हो सकता है. जब सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर अपनी नाराजगी जाहिर की तो अमेजन ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसका जवाब दिया था. उन्होंने कहा कि ये पायदान भारत में या भारतीय पोर्टल पर नहीं बेचे जा रहे हैं, फिर भी मंत्री की चिंताओं को उचित व्यक्तियों तक पहुंचा दिया गया है.

स्वराज ने बताया कि उन्होंने कनाडा में भारतीय उच्चायुक्त को इस मामले पर अमेजन से बात करने को कहा है. सुषमा स्वराज को यह जानकारी ट्विटर के जरिये ही मिली थी. मुंबई के एक यूजर ने ट्वीट कर उन्हें यह बात बताई थी कि भारतीय झंडे वाले पायदान अमेजन पर बिक रहे हैं. भारतीय विदेश मंत्री ट्विटर पर खूब सक्रिय रहती हैं.

जानिए, क्या देश बदल सकती है जनता?

अमेजन इंडिया ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने इस बारे में ईमेल भेज कर प्रतिक्रिया मांगी लेकिन कोई जवाब नहीं आया. अमेरिका और कनाडा में भी अधिकारी पहुंच से बाहर रहे. भारत अमेजन के लिए बहुत बड़ा और अहम बाजार है. भारत दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ता ऑनलाइन बाजार है और अमेजन ने वहां 5 अरब डॉलर से ज्यादा के निवेश का ऐलान किया है. पिछले साल अमेरिका में अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी. तब उन्होंने कहा था कि भारत अमेजन के लिए सबसे तेजी से बढ़ता क्षेत्र है.

वीके/एके (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री