1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

टोरंटो में सड़कों पर दिखी किताबों की नदी

रखी हों या मेज पर ढेर में पड़ी हों, हमेशा खूबसूरत लगती हैं. तो जरा सोचिए, किताबों की नदी कैसी लगेगी? 30 सितंबर को कनाडा के टोरंटो में किताबों की नदी नजर आई.

जिसे किताबों से प्यार है वो तो मानेगा कि किताबें सिलसिलेवार तरतीब से किसी सुंदर सी अलमारी में रखी हों या मेज पर ढेर में पड़ी हों, हमेशा खूबसूरत लगती हैं. तो जरा सोचिए, किताबों की नदी कैसी लगेगी? 30 सितंबर को कनाडा के टोरंटो शहर में किताबों की नदी नजर आई. शहर के न्युइट ब्लांच फेस्टिवल के तहत सड़कों को चमकदार किताबों से पाट दिया गया. देखिए, अद्भुत वीडियो...

दरअसल, यह एक आर्ट इंस्टॉलेशन था, जिसे नाम दिया गया लिटरेचर वर्सेस ट्रैफिक. इसके तहत कारों और अन्य वाहनों से पटी रहने वाली सड़कों को दान में मिलीं दस हजार किताबों की मदद से किताबों की नदी में तब्दील कर दिया गया. यह काम किया एक आर्टिस्टिक ग्रुप लुजिन्ट्रप्ट्स ने. लुजिन्ट्रप्ट्स में कौन कौन है, किसी को नहीं पता. यह ग्रुप स्पेन के मैड्रिड का है और शहरों में रोशनी के इर्द-गिर्द कला रचने पर काम करता है. ये लोग अक्सर कचरे से या दान में मिली चीजों से कला रचते हैं और अपने काम के जरिये सामाजिक या राजनीतिक मुद्दों पर बात करते हैं. तो टोरंटो में जब शाम हुई, लोग नदी को अपने घर ले जा सकते थे. हर कोई एक किताब अपने घर ले जा सकता था.

यह जरूर देखिए, जर्मनी के देखने लायक पुस्तकालय

DW.COM

संबंधित सामग्री