1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

75 साल के हुए दलाई लामा

धर्मशाला में हजारों समर्थकों की मौजूदगी के बीच तिब्बतियों के धर्मगुरू दलाई लामा ने मंगलवार को अपना 75वां जन्मदिन मनाया. मैक्लॉयडगंज के मंदिर में जन्मदिन मनाने बड़ी संख्या में विदेशी सैलानी भी पहुंचे.

default

75 साल के दलाई लामा

मंदिर के बीचोबीच बने स्टेज पर दलाई लामा और उनके चारों तरफ स्कूली बच्चे, तिब्बती शरणार्थी और विदेशी सैलानियों की भीड़, मौका था तिब्बती धर्मगुरू के जन्मदिन का. भारी बारिश से बेपरवाह पांच हज़ार से ज्यादा लोग अपने प्यारे दलाई लामा को जन्मदिन की बधाई देने यहां आए हैं. 1959 में तिब्बत से भागकर भारत आए दलाई लामा का अब धर्मशाला ही घर है.

Dalai Lama feiert 75. Geburtstag in Indien

हजारों लोगों ने मनाया दलाई लामा का जन्मदिन

अच्छी सेहत में नज़र आते दलाई लामा एक पोस्टर में अपने बचपन, जवानी और बुढ़ापे की तस्वीर देखकर मुस्कुरा पड़े. उन्होंने कहा 'मुझे अपना गुजरा वक्त याद है और जो काम हमने किये हैं उसके बाद मैं समझता हूं कि मेरी ज़िंदगी बेकार नहीं गई.' दलाई लामा ने कहा 'तिब्बत में तिब्बती लोगों को मेरा जन्मदिन मनाने की इजाज़त नहीं मिली क्योंकि चीन समझता है कि हम अलगाववादी हैं.' इस मौके पर दलाई लामा ने लोगों को बौद्ध धर्म के बारे में बताते हुए कहा कि बौद्ध धर्म ने उन्हें कभी निराश नहीं होने दिया और मुश्किल वक्त में उनका साथ निभाया. वहां आए लोगों को दलाई लामा ने अपना ख्याल रखने की नसीहत भी दी.

उधर नेपाल की राजधानी काठमांडू में दलाई लामा का जन्मदिन मनाने जा रहे 22 तिब्बती लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. बाद में उन लोगों को रिहा कर दिया गया. नेपाल सरकार ने सार्वजनिक रूप से दलाई लामा का जन्मदिन मनाने पर पाबंदी लगा रखी है. ज्वालाखेल के मैदान में तिब्बती लोगों ने दलाई लामा का जन्मदिन मनाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया था जिसे पुलिस ने विफल कर दिया.

रिपोर्टः एजेंसियां/ एन रंजन

संपादनः आभा एम

संबंधित सामग्री