1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

68 साल बाद दिखेगा सबसे खूबसूरत चांद

क्या आपने सुपर डुपरमून या एक्स्ट्रा सुपरमून के बारे में कुछ सुना है? 14 नवंबर की रात आकाश में ऐसा ही जबरदस्त नजारा दिखाई पड़ेगा.

चंद्रमा पृथ्वी का प्राकृतिक उपग्रह है. धरती के चारों ओर चक्कर लगाने वाला चांद कभी कभार ही पृथ्वी के इतने करीब आता है कि वह बहुत ही बड़ा दिखने लगता है. खगोलशास्त्र में ऐसे चांद को सुपरमून कहा जाता है. लेकिन 14 नवंबर 2016 को चंद्रमा, सुपरमून से भी बड़ा दिखाई देगा. 68 साल बाद यह पहला मौका होगा जब चंद्रमा बेहद बड़ा दिखाई देगा. इसे सुपर डुपरमून या एक्स्ट्रा सुपरमून कहा जा रहा है.

(तस्वीरों में पुराने सुपरमून लम्हे)

वैज्ञानिक नजरिये से देखा जाए तो सुपरमून, पूर्णिमा के चांद से 14 फीसदी बड़ा और 30 फीसदी ज्यादा चमकदार दिखता है. 2016 में तीन बार सुपरमून का दीदार होना है. इस साल का पहला सुपरमून 16 अक्टूबर को दिखा. दूसरा 14 नवंबर को और तीसरा 14 दिसंबर को दिखाई पड़ेगा. लेकिन 14 नवंबर वाला सुपर डुपरमून बहुत ही ज्यादा बड़ा और सबसे ज्यादा चमकदार होगा. अगर आप 14 नवंबर का मौका चूक गए तो आपको 2034 तक इंतजार करना पड़ेगा.

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के वैज्ञानिक डॉक्टर नोआह पेट्रो कहते हैं, "साफ आसमान के नीचे पेड़ों से दूर कोई भी खुली और अंधेरी जगह खोजें, वहां चांद निकलते ही शानदार नजारा दिखाई देगा." मौसम साफ रहा तो चांद को रात से सुबह तक किसी भी समय देखा जा सकेगा.

(देखिये धरती के रहस्य)

DW.COM