1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

2+2=4 नहीं हो सकती भारत-पाक बातचीतः मलिक

पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक ने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि भारत और पाकिस्तान की बातचीत को 2+2 =4 के आधार पर नहीं मापा जाना चाहिए.

default

ट्विटर पर राजनीति कर रहे हैं रहमान मलिक

भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों ने 15 जुलाई को मुलाकात की थी, जिसके बाद से रिश्तों में तनाव बढ़ने का खतरा पैदा हो गया है. अब दोनों देशों के नेता इस तनाव को कम करने की कोशिश कर रहे हैं. मलिक ने लिखा है, “अब दिलों की अदला बदली का वक्त है. हमें मोहब्बत और शांति के बीज बोने चाहिए ताकि आने वाली पीढ़ियां नफरत और आतंकवाद की बीमारी से बची रहें.”

रहमान मलिक के ट्विटर पर लगभग 3500 फॉलोअर्स हैं. उनका यह कॉमेंट भारत-पाक रिश्तों में बातचीत के बाद आए तनाव को कम करने की कोशिश का ही हिस्सा हो सकता है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने भी शनिवार को ऐसे बयान दिए थे जिनसे जाहिर हो कि संबंधों को बेहतर बनाना ही उनकी कोशिश है. पाकिस्तानी विदेश मंत्री भी बातचीत के बाद दिए अपने तल्ख बयानों से शनिवार को मुकर गए. भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा से बातचीत के बाद प्रेस कांफ्रेंस में शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि कृष्णा को लगातार दिल्ली से निर्देश मिल रहे थे. लेकिन अब कुरैशी का कहना है कि यह निर्देश भारतीय प्रतिनिधिमंडल में शामिल एक अधिकारी को मिल रहे थे और वह इन संदेशों को कृष्णा तक बढ़ा रहा था. पाकिस्तानी विदेश मंत्री के मुताबिक, "मैंने कभी नहीं कहा कि दिल्ली से कृष्णा को फोन आ रहे थे और इस वजह से उन्हें बार बार बैठक छोड़ कर बाहर जाना पड़ा."

कुरैशी ने स्पष्ट करने का प्रयास किया कि उनका इशारा एक भारतीय प्रतिनिधि की ओर था. उनके मुताबिक एक अधिकारी फोन पर बात करने के लिए बार बार बाहर जाता और वह फिर एसएम कृष्णा से बात करता.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार