1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

स्पाइसजेट ने बोइंग से किया 22 अरब डॉलर का समझौता

भारतीय विमानन बाजार में यूरोपीय कंपनी एयरबस की खासी पैठ है लेकिन अब इसे अपनी अमेरिकी प्रतिद्वंद्वी बोइंग से कड़ी टक्कर मिल रही है.

भारतीय बजट विमानन कंपनी स्पाइसजेट, अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग से 205 विमान खरीदेगी. 22 अरब डॉलर का यह सौदा किसी भारतीय विमानन कंपनी द्वारा किए गए अब तक के सबसे बड़े सौदों में से एक है.

स्पाइसजेट ने अपने आधिकारिक बयान में बताया कि इस सौदे के तहत 100 नये विमान खरीदे जाने हैं जो 737 मैक्स8 जेट होंगे. इनके साथ 55 एयरक्राफ्ट भी खरीद में शामिल हैं. साथ ही कंपनी के पास 50 अतिरिक्त विमानों के भी खरीद अधिकार हैं.

आज से दो साल पहले भारी घाटे के चलते स्पाइसजेट बंद होने के कगार पर थी.

तस्वीरों में देखिए, सबसे सुरक्षित एयरलाइंस

स्पाइसजेट के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने कहा कि यह स्पाइसजेट के लिए यह बड़ा सौदा है. फिलहाल एयरलाइन के पास अगली पीढ़ी के 32 बी737एस और 17 बॉमबार्डियर क्यू400एस हैं. इस सौदे से भारतीय बाजार में बोइंग को बल मिलेगा. पिछले कुछ महीनों में यूरोपीय कंपनी एयरबस ने भारतीय कंपनियों के साथ तमाम बड़े सौदे किए हैं.

पिछले साल जुलाई में गोएयर ने 72 विमानों के लिए एयरबस के साथ 7.7 अरब डॉलर का सौदा किया था. वहीं वर्ष 2015 में एक अन्य कंपनी इंडिगो ने भी 250 विमानों के लिए एयरबस के साथ तकरीबन 26.55 अरब डॉलर का सौदा किया था.

एए/वीके (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री