1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

2.2 करोड़ घंटे ओवरटाइम

शरणार्थी संकट और आतंकी हमलों ने जर्मन पुलिस को एड़ी के बल खड़ा कर दिया है. 2016 में पुलिस को अतिरिक्त 2.2 करोड़ घंटे काम करना पड़ा.

जर्मन पुलिस संघ के ऑलिवर मालशोव के मुताबिक, "यह ओवरटाइम प्रांतीय और संघीय पुलिस के 900 स्टेशनों के 9,000 पुलिसकर्मियों की फोर्स ने किया." जर्मन अखबार बिल्ड त्साइटुंग से बात करते हुए उन्होंने बताया कि शरणार्थी संकट और आतंकी हमलों की आशंका के चलते पुलिस लगातार ज्यादा काम कर रही है.

अखबार के मुताबिक जर्मनी में बीते 20 साल में पुलिस का काम लगातार बढ़ता गया, जबकि पुलिसकर्मियों की संख्या घटती गई. सरकारी खर्च में कटौती की मार पुलिस पर भी पड़ी. 2.2 करोड़ घंटों को अगर साल में बदला जाए तो जर्मन पुलिस 2,511 साल एक्स्ट्रा काम कर चुकी है.

जर्मन में संघीय पुलिस में 3,000 नई भर्तियां होनी हैं. लेकिन पहले बैच के पुलिस अधिकारियों की ट्रेनिंग 2019 से पहले खत्म नहीं होगी.

यूरोप में बीते साल कई आतंकी हमले हुए. दिसंबर में जर्मन राजधानी बर्लिन के एक क्रिसमस बाजार में लोगों ट्रक से रौंदा भी गया. उस हमले के बाद से पुलिस एड़ी के बल खड़ी है. फरवरी में राइन नदी के किनारे बसे इलाकों में कार्निवाल होगा, उसकी तैयारी ने भी पहले से ओवरटाइम कर रही पुलिस की हालत खस्ता कर रखी है. कॉर्निवाल के आखिरी हफ्ते में लाखों लोग जुटते हैं.

 

DW.COM

संबंधित सामग्री