1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

2025 में आसमान में दिखेंगे सुपर विमान

2025 तक हवाई यातायात पूरी तरह बदल सकता है. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने विमानों के तीन नए डिजाइन पेश किए हैं जो क्रांतिकारी बदलाव ला सकते हैं. ये नए विमान 2025 में उड़ान भरने लायक हो सकते हैं.

default

ये डिजाइन विमान बनाने वाली कंपनियों लॉकहीड मार्टिन, नॉर्थरोप ग्रूमन और बोइंग ने पेश किए हैं. ब्रिटेन के अखबार डेली मेल के मुताबिक तीनों कंपनियों को नासा की तरफ से अपने अपने डिजाइन पर काम करने कॉन्ट्रैक्ट मिल गया है. इसके तहत 2011 में कंपनियां अपने अपने विमानों के डिजाइन को विकसित करने पर काम करेंगी.

ये डिजाइन नासा की नई योजना के तहत बनाए गए हैं. नासा ने एलान किया था कि वह ऐसे सुपर विमान बनाना चाहती है जो ज्यादा तेज, बड़े और कम शोर करने वाले हों. साथ ही इन विमानों में कम ईंधन में ज्यादा दूरी तय करने की काबिलियत भी होनी चाहिए.

Indira Gandhi International Airport in New Delhi Indien Flash-Galerie

नासा ने जो मानक तय किए हैं उनके मुताबिक विमानों को ध्वनि की गति की लगभग 85 फीसदी रफ्तार से उड़ना होगा. वे इतने काबिल हों कि एक बार में सात हजार मील की दूरी तय कर सकें. और विमान 50 हजार से एक लाख पेलोड ले जा सकें.

इन मानकों के आधार पर तीनों कंपनियों ने अपने डिजाइन तैयार किए हैं. अब ये कंपनियां सालभर अपने नए विमानों को तैयार करने पर काम करेंगी. उसके बाद नासा किसी एक को या शायद सभी विमानों को विकास के लिए चुनेगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links