1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

20 लाख जर्मन मोबाइल में सेंध

कंप्यूटरों की सूचना न तो खुफिया एजेंसियों से सुरक्षित हैं और न ही हैकरों से. एक हैकर ने टेलीकम्यूनिकेशन कंपनी वोडाफोन के नेटवर्क में घुस कर जर्मनी में 20 लाख ग्राहकों का डाटा चुरा लिया.

default

डाटा पर हमला

ब्रिटिश कंपनी वोडाफोन का जर्मन मुख्यालय डुसेलडॉर्फ में है. मोबाइल फोन नेटवर्क चलाने वाली कंपनी ने बताया कि हैकर ने नाम, पता, बैंक नंबर और खाता नंबर से संबंधित जानकारियां चुरा ली हैं. कंपनी का कहना है कि इस बात को नकारा जा सकता है कि उसे क्रेडिट कार्ड, पासवर्ड, पिन नंबर, मोबाइल फोन नंबर या संपर्क डाटा से संबंधित जानकारी मिली है.

वोडाफोन ने कहा है कि हैकिंग से प्रभावित लोगों को इसके बारे में चिट्ठी से जानकारी दे दी गई है. कंपनी का कहना है कि किसी के लिए इन सूचनाओं के साथ सीधे ग्राहकों के बैंक खातों पर हमला करना मुश्किल है, लेकिन चुराए गए डाटा से बाद में एकल व्यक्तियों के खिलाफ हैकिंग हमला आसान हो सकता है.

मोबाइल नेटवर्क का कहना है कि वह चोरी का पता चलने के बाद से जर्मन अधिकारियों के साथ निकट सहयोग कर रहा है. जिन सरकारी दफ्तरों ने वोडाफोन को इस चोरी के बारे में जानकारी दी, उन्होंने हैकर की शिनाख्त कर ली है और उसके घर पर छापा भी मारा है.

यह मामला सिर्फ वोडाफोन के जर्मन शाखा से संबंधित है. दूसरे देश इस चोरी से प्रभावित नहीं हैं. वोडाफोन का कहना है कि कंपनी के सर्वर पर हमला सिर्फ भारी आपराधिक ऊर्जा और अंदरूनी जानकारी के साथ संभव है. वह कंपनी के आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर के अंदर अत्यंत छिपे ढंग से किया गया है.

जर्मन की प्रमुख टेलीकम्यूनिकेशन कंपनी टेलीकॉम भी हैकरों का निशाना रही है. लेकिन एक साल पहले कंपनी के नेटवर्क पर बड़े हमले की कोशिश को नाकाम कर दिया गया था.

एमजे/एजेए (रॉयटर्स, एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री