1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

1990 के बाद हज में दूसरा सबसे बड़ा हादसा

सऊदी अरब के मीना में जमारात के मौके पर मची भगदड़ में मारे गए 717 लोगों में 14 भारतीय भी शामिल हैं. सालाना हज पर हुई अब तक की दूसरी सबसे भीषण त्रासदी पर दुनिया भर से दुखद प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

25 साल बाद पहली बार ऐसा हुआ कि एक साथ इतने सारे तीर्थयात्रियों के जमारात में शैतान को कंकड़ी मारने की रस्म के लिए पहुंचने से वहां भगदड़ मच गई. भारतीय हजयात्रियों की मृत्यु की पुष्टि भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की इस ट्वीट से हुई.

इससे पहले 1990 में हुए हादसे में 1,426 लोग मारे गए थे. इस साल अधिकारियों ने 717 लोगों के मरने की बात कही है. हादसे में मारे गए भारतीयों की सूची भी जारी हुई है.

सऊदी प्रशासन ने हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं. स्वास्थ्य मंत्री खालिद अल-फालिह ने कहा है कि हादसे का कारण हज करने वालों का प्रशासन के निर्देशों का ठीक से पालन ना करना हो सकता है. सऊदी किंग सलमान ने हज की योजना की समीक्षा करने का आदेश दिया है. उन्होंने पूछा है कि ऐसा कैसे हुआ कि लोगों के दो बड़े समूह एक साथ मीना के चौराहे पर पहुंच गए.

मक्का में हज के लिए इकट्ठा होना दुनिया का सबसे बड़ा सालाना आयोजन है. यहां पहले भी आग लगने, भगदड़ मचने जैसी कई बड़ी दुर्घटनाएं हो चुकी हैं लेकिन पिछले कुछ सालों में ऐसा काफी कम हो गया था. सऊदी सरकार ने हज में सुविधा के लिए ढांचागत निर्माण पर और इतनी बड़ी भीड़ का नियंत्रण करने की व्यवस्था पर अरबों रूपए खर्च किया है. इसमें कई नवीनतम तकनीकों का भी इस्तेमाल शामिल है.

हज में सुरक्षा इंतजाम सऊदी अरब के अल सऊद शासकों के लिए राजनीतिक रूप से भी काफी संवेदनशील मुद्दा माना जाता है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सऊदी शासन खुद को कट्टर इस्लाम का पालक और मक्का, मदीना जैसे पवित्र धार्मिक स्थलों का संरक्षक मानता है. ट्विटर पर साझा की गई तस्वीरें दिखाती हैं कि कैसे सऊदी नागरिक सुरक्षा दल लोगों को स्ट्रेचर पर लिटाकर दुर्घटनास्थल से निकाल रहे हैं.

dwnews ✔@dwnews

दूसरी कई तस्वीरें सफेद कपड़े पहने उन हाजियों की हैं जिनमें वे घायल और स्तब्ध लोग दिख रहे हैं जिनकी जान बच गई.

अमेरिका की यात्रा पर गए पोप फ्रांसिस ने इस हादसे पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए दुनिया के सभी मुसलमानों से "भावनाओं में उनके साथ" होने की बात कही. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बान की मून और अमेरिका की ओर से भी सांत्वना व्यक्त की गई है.

DW.COM