1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

15 दिन में एक और जवाब दें मोदी

विश्व क्रिकेट को बांटने और इंग्लैंड में चोरी छिपे आईपीएल जैसा टूर्नामेंट शुरू करने की योजना बना रहे ललित मोदी से 15 दिन के अंदर जवाब मांगा गया है. मोदी की योजना का भंडाफोड़ इंग्लैंड क्रिकेट प्रमुख जाइल्स क्लार्क ने किया.

default

मुश्किल में मोदी

क्लार्क ने भारत में क्रिकेट अधिकारियों को लिखे अपने ईमेल में इस योजना के बारे में बताया है. ईमेल में लिखा गया है कि मोदी चाहते थे कि विश्व के बड़े सितारों को लेकर इंग्लैंड में आईपीएल जैसा टूर्नामेंट खेला जाए और इस बारे में उन्होंने इंग्लैंड के तीन क्रिकेट काउंटी से बात की थी. यह बातचीत 31 मार्च को भारत में हुई और इस बारे में भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई या इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड को कोई जानकारी नहीं थी.

इसके बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने मोदी से जवाब मांगा है. बीसीसीआई ने इस कदम को भारतीय क्रिकेट, इंग्लैंड क्रिकेट और विश्व क्रिकेट के लिए अच्छा नहीं बताया और मोदी से 15 दिन में जवाब देने को कहा है.

Die Cheerleader des indischen Cricketteam Royal Challengers

आईपीएल की तर्ज पर

मोदी को दिए गए पांच पन्ने के नोटिस में बीसीसीआई के सचिव एन श्रीनिवासन ने तमाम मुद्दों का जिक्र किया है, जिनके तहत मोदी इंग्लैंड में एक समांतर क्रिकेट लीग की शुरुआत करने की योजना बना रहे थे.

श्रीनिवासन ने नोटिस में कहा है, "आप पर आरोप है कि आपने यह काम व्यवासायिक कारणों के लिए किया." बताया जाता है कि डील के तहत राजस्व को फ्रेंचाइजी और काउंटी के बीच 80:20 के अनुपात में बांटा जाता. श्रीनिवासन का कहना है कि मोदी की योजना थी कि अगर उस देश का क्रिकेट बोर्ड इसके लिए तैयार न हो, तो खिलाड़ी बगावत भी कर सकते हैं.

बीसीसीआई के नोटिस में कहा गया है कि मोदी की यह योजना अगर अमल में आ जाती, तो बीसीसीआई और इंग्लैंड बोर्ड सिर्फ तमाशा देखने पर मजबूर ही नहीं होता, बल्कि खेल की इस विधा में उनका कोई दखल भी नहीं हो पाता.

आईपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी को पिछले दिनों भारी विवाद के बाद पद से हटा दिया गया है. उन पर भ्रष्टाचार के भी व्यापक आरोप लगे हैं. इस मामले में भी उन्हें 15 दिन के अंदर जवाब देना है, जिसकी मीयाद सोमवार को खत्म हो रही है.

रिपोर्टः एएफपी/ए जमाल

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री