1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

11 लाख गाड़ियां वापस लेगी टोयोटा

जापान की कार बनाने वाली कंपनी उत्तरी अमेरिका में अपनी 11 लाख गाड़ियों को वापस लेगी. कार के इंजन में खराबी की शिकायत के बाद कंपनी ने ये फैसला किया है. हाल के महीनों में एक करोड़ से ज्यादा कारें वापस ले चुकी है टोयोटा.

default

टोयोटा की मशहूर मॉडल कोरोला के इंजनों में कुछ खराबी है जिसकी वजह से चलती हुई कार का इंजन अचानक बंद हो जाता है. दुनिया की इस सबसे बड़ी कार कंपनी का कहना है कि 2005 से 2008 के बीच बेची गई कोरोला और कोरोला मैट्रिक्स कारों की इंजन में गड़बड़ी की शिकायतें आई हैं. टोयोटा का कहना है कि संभव है कि ये गड़बड़ी इलेक्ट्रॉनिक हिस्से के सोल्डर प्वाइंट में हो या फिर उस पार्ट में जिसे सर्किट को ज्यादा वोल्टेज से बचाने के लिए लगाया गया है. इस गड़बड़ी के कारण इंजन के स्टार्ट होने में दिक्कत होती है या फिर कई बार गाड़ी चलते चलते अचानक बंद हो जाती है. अब तक तीन ऐसे मामलों की शिकायत आई है हालांकि अभी तक इनकी पुष्टि नहीं हुई है.

Japan Toyota Rückruf Flash-Galerie

11 लाख कारें वापस होंगी

कारों को वापस लेने का फैसला नवंबर में शुरू हुए यूएस नेशनल हाइवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन यानी एनएचटीएसए की जांच की रिपोर्ट आने के बाद लिया गया है. एनएचटीएसए का कहना है कि उसके पास इस तरह की 163 शिकायतें आई हैं जिनमें लोगों ने कार के अचानक बंद हो जाने की बात कही.

Toyota Hybridantrieb

कार की इंजन में खराबी

टोयोटा के लिए ये बड़ा झटका है क्योंकि इसी साल की शुरूआत में कंपनी को अपनी 1 करोड़ कारें एक्सीलरेटर में खराबी की शिकायत के बाद दुनिया भर से वापस लेनी पड़ी थी. कंपनी की छवि को इससे काफी नुकसान पहुंचा है. पिछली बार कार के एक्सीलरेटर के गैस पैडल में खराबी थी जिसके कारण कार की स्पीड पर नियंत्रण रखना मुश्किल हो गया. टोयोटा को इससे हुए नुकसान के लिए हर्जाने के रूप में करीब एक करोड़ 64 लाख अमेरिकी डॉलर चुकाने पड़े. कार की गड़बड़ी के कारण अमेरिका में 50 लोगों की जान गई.

कुछ ही महीने पहले टोयोटा ने अपनी लग्ज़री गाड़ी लेक्सस की भी ढाई लाख से ज्यादा कारें वापस ली थी. इन कारों की भी इंजन में गड़ब़ड़ी थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः उभ