1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

11 अक्तूबर को पेश होंगे राणा के खिलाफ सबूत

आतंकवाद के शक में पकड़े गए पाकिस्तानी मूल के कनाडाई तहव्वुर हुसैन राणा के खिलाफ 11 अक्तूबर को कोर्ट में सबूत पेश किए जाएंगे. अमेरिकी अदालत में राणा पर मुकदमा चल रहा है. अभियोजन पक्ष सबूत पेश करने की तैयारी कर रहा है.

default

हेडली और राणा पर चल रहा है केस

बुधवार को इस मामले की सुनवाई हुई और अदालत ने सरकार से 11 अक्तूबर को सबूत पेश करने को कहा. बचाव पक्ष को अपनी दलीलें रखने के लिए 18 अक्तूबर की तारीख दी गई है.

49 साल के राणा को लश्कर ए तैयबा के आतंकी डेविड कोलमैन हेडली के साथ 12 मामलों में आरोपी बनाया गया है. उस पर लश्कर को मुंबई हमलों के लिए सामग्री उपलब्ध कराने का आरोप है. इसके अलावा उस पर डेनमार्क के उस अखबार पर हमले की साजिश रचने का भी आरोप है, जिसने पैगंबर मोहम्मद का कार्टून छापा.

बुधवार को हुई सुनवाई में सरकार ने क्लासीफाइड इन्फॉर्मेशन प्रोसीजर्स एक्ट (सीपा) के सेक्शन चार के तहत 11 अक्तूबर की तारीख मांगी. यह कानून वर्गीकृत सबूतों के लिए है. राणा के वकील पैट्रिक डब्ल्यू ब्लेगेन और उनके साथी चार्ली स्विफ्ट ने कहा, "हम सीपा सेक्शन पांच के तहत 18 अक्तूबर को अपने सबूत पेश करेंगे." मामले की अगली सुनवाई 27 अक्तूबर को होगी.

राणा पर संघीय जूरी ने इसी साल 15 फरवरी को आरोप तय किए. उधर डेविड हेडली ने मार्च में ही अपना कसूर मान लिया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links