1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

1000 मैच का कोच

भले ही फुटबॉल की दुनिया में उन्हें सबसे महान मैनेजर नहीं समझा जाता हो लेकिन कोई आर्सेनल के चाहने वालों से तो पूछे. मैनेजर आर्सेन वेंगर टीम के लिए 1000वें मैच में मैदान पर उतरने वाले हैं.

हालांकि 18 साल से मैनेजर रहने के बावजूद वेंगर का कहना है कि अभी उन्हें बहुत कुछ सीखना बाकी है, "आप हर गेम से सीखते हैं और आप हारने वाले मैच से ज्यादा सीखते हैं. क्योंकि आप तह तक जाते हैं, आप खुद पर सवाल करते हैं, आप खिलाड़ियों पर सवाल करते हैं. आप जैसे जैसे आगे बढ़ते हैं, बुनियादी तौर पर ज्यादा सीखते हैं. तब आपको टीम की सीमा के बारे में ज्यादा पता लगता है." उनकी टीम को शनिवार को ताकतवर चेल्सी से भिड़ना है.

सितंबर, 1996 में जब उन्हें टीम की जिम्मेदारी दी गई थी, तो अखबारों में हेडिंग छपी, "कौन हैं आर्सेन" लेकिन पहले ही सीजन में उन्होंने तहलका मचा दिया. फ्रांस और जापान में ट्रेनिंग दे चुके 64 साल के वेंगर ने इंग्लैंड में खिलाड़ियों की खुराक को लेकर लोगों की मानसिकता बदल कर रख दी. उन्होंने जोर दिया कि उन्हें ज्यादा ब्रॉकली खानी चाहिए और सब्जियां ग्रिल करके खानी चाहिए.

एलेक्स फर्गुसन के साथ आर्सेन वेंगर

एलेक्स फर्गुसन के साथ वेंगर

उनकी मेहनत का ही फल था कि टीम ने दो लीग खिताब और तीन एफए कप जीते. इसके बाद 2006 में आर्सेनल फाइनल में पहुंचा, जहां उसे बार्सिलोना के हाथों शिकस्त झेलनी पड़ी. वैसे जब वेंगर अपने 1000वें मैच के लिए जा रहे हैं, तो इंग्लैंड की प्रीमियर लीग के बाकी 19 मैनेजरों ने कुल जमा 993 मैचों में ही अगुवाई की है.

नशा है मैच

प्रीमियर लीग में वेंगर के बाद सबसे तजुर्बेकार कोच न्यू कासेल यूनाइटेड के मैनेजर एलेन पारड्रू हैं, जो सिर्फ 2010 से सेवाएं दे रहे हैं. हालांकि इतना समय बीतने के बाद वेंगर का कहना है, "पता ही नहीं चलता कि समय कहां चला गया. मुझे तो लग रहा है कि मैंने कल ही काम शुरू किया था." उनका कहना है कि अगला मैच किसी नशे की तरह होता है और उन्हें हमेशा अगले मैच का इंतजार रहता है.

मैट बस्बी, डारिया गार्डी और एलेक्स फर्गुसन के बाद वेंगर सिर्फ चौथे मैनेजर हैं, जो इस मुकाम पर पहुंच रहे हैं. मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व कोच फर्गुसन और वेंगर कि किसी जमाने में नहीं बनती थी. लेकिन फिलहाल फर्गुसन फ्रांसीसी मूल के कोच वेंगर की तारीफ कर रहे हैं, "कुछ सालों तक हमने आपस में जबरदस्त संघर्ष किया. आप कह सकते हैं कि हम दोनों इसमें टिके रहे और एक दूसरे का सम्मान किया. मैंने हमेशा आर्सेन की टीम आर्सेनल को खेलते देखने में मजा उठाया है."

वेंगर नहीं चाहते कि उनकी वजह से मैच के आयोजन में किसी तरह की रुकावट हो, फिर भी उनके सम्मान में स्टैमफोर्ड स्टेडियम में खास आयोजन होने वाला है. वेंगर का कहना है, "यह तो वक्त ही बताएगा कि मैंने इस क्लब को बड़ा बनाया या नहीं. लेकिन मुझे उम्मीद तो है."

एजेए/आईबी (एएफपी)