1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

100 बोरी नकदी और हीरे मिले

ट्रकों की तलाशी के दौरान मुंबई पुलिस के हाथ जो लगा, उसे देख कर उनकी आंखें चौंधिया गईं. ट्रकों में भरी 100 से भी ज्यादा बोरियां मिलीं, जिनमें नकद पैसों के अलावा सोना और हीरा भरा था.

लगभग डेढ़ दिन बीतने के बाद भी पक्का अनुमान नहीं लगाया जा सका है कि पकड़ा गया माल कितने का है. पुलिस का दावा है कि नकदी तो कम से कम 10 करोड़ रुपये की है.

इनकम टैक्स और आतंकवाद निरोधक दस्ते की संयुक्त कार्रवाई में दक्षिण मुंबई के रेलवे स्टेशन पर इन ट्रकों को पकड़ा गया. इनकम टैक्स विभाग के महानिदेशक स्वतंत्र कुमार ने बताया कि उन्हें इस बात की भनक मिली थी, जिसके बाद छापे मारे गए. इस मामले में 45 लोगों से पूछताछ हो रही है.

उन्होंने कहा, "नकदी करीब करीब 10 करोड़ रुपये है. हीरे और दूसरे जेवरों की कीमत का अनुमान लगाया जा रहा है. इससे ज्यादा हम नहीं बता सकते."

भारतीय एजेंसियों का कहना है कि ये माल हवाला का हो सकता है और हो सकता है कि गुजरात भेजा जा रहा हो. बिना टैक्स चुकाए पैसे के लेनदेन के तरीके को हवाला कहते हैं, जो आम तौर पर विदेशों से किया जाता है. गुजरात की बहुत बड़ी आबादी विदेशों में बसी है.

खबरें हैं कि इस तरह के कूरियर को आम तौर पर पुलिस का संरक्षण मिला होता है. पुलिस के डिप्टी कमिश्नर निसार तंबोली का कहना है, "पिछले 15 साल, या इससे भी ज्यादा वक्त से स्थानीय थाने एक एस्कॉर्ट दिया जाता रहा है क्योंकि इनके पास भारी रकम होती है. यह काम डकैती और लूटपाट रोकने के लिए किया जाता है क्योंकि इस मामले में तो हत्याएं भी हो चुकी हैं."

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने भारतीय समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि इन नकदी और हीरे जवाहरात की जांच करने का काम पुलिस का नहीं है कि वे कहां से आए हैं.

अधिकारियों ने बताया कि अभी पकड़े गए सामान की कीमत लगाई जा रही है.

एजेए/एनआर (एएफपी)

DW.COM