1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

10 करोड़ डॉलर में डील

फॉर्मूला वन के कर्ता धर्ता बर्नी एकलस्टन के खिलाफ घूसखोरी का मुकदमा अदालत के बाहर निबटा लिया गया है. इसके लिए एकलस्टन को 10 करोड़ डॉलर की धनराशि देनी होगी. इसके भुगतान तक जर्मन अदालत ने केस स्थगित कर दिया है.

कुछ खास तरह के मामलों में जर्मन कानून ऐसी डील की इजाजत देता है. इसका मतलब यह होगा कि 10 करोड़ डॉलर देने के बाद एकलस्टन निर्दोष माने जाएंगे और अपना करियर आगे बढ़ा सकेंगे. वह 83 साल के हैं.

म्यूनिख शहर के जज पीटर नॉल ने एकलस्टन को एक हफ्ते में यह पैसा देने को कहा है. इनमें से 9.9 करोड़ डॉलर सरकार को दिया जाएगा, जबकि बाकी के 10 लाख बच्चों की एक चैरिटी के नाम करना होगा. जज नॉल ने कहा, "यह सुनवाई फिलहाल स्थगित की जाती है. इस बीच आप अपना वादा पूरा करें. फिर इस मामले को हमेशा के लिए खत्म कर दिया जाएगा."

जज ने कहा, "लेकिन अगर आप अपना वादा पूरा नहीं करते हैं, तो हमें मुकदमा आगे बढ़ाना होगा. मैं उम्मीद करता हूं कि हम दोनों एक दूसरे को आगे सिर्फ टेलीविजन पर देखेंगे." एकलस्टन ने इंग्लिश में जवाब दिया, "आपका बहुत शुक्रिया. मैं अपना वादा पूरा करूंगा." फॉर्मूला वन को सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंचाने वाले एकलस्टन के खिलाफ अप्रैल में मुकदमा शुरू हुआ. उन पर एक जर्मन बैंकर को साढ़े चार करोड़ डॉलर की रिश्वत देने का आरोप है.

एकलस्टन कभी पुरानी कारों के सेल्समैन हुआ करते थे. फिर उन्होंने स्पोर्ट्स में कदम रखे और पिछले चार दशक में अभूतपूर्व कामयाबी हासिल की. वह किसी तरह का गलत काम करने से इनकार करते हैं. सरकारी वकील ने म्यूनिख की अदालत में कहा कि एक्लेस्टन की उम्र और दूसरे तथ्यों को देखते हुए वह चाहते हैं कि यह डील हो जाए.

फॉर्मूला वन में सबसे ज्यादा 35 फीसदी शेयर रखने वाले निजी ग्रुप सीवीसी ने कहा था कि अगर एक्लेस्टन दोषी साबित होते हैं, तो उन्हें निकाल दिया जाएगा. सरकारी वकील कह चुके हैं कि रिश्वतखोरी के इस मामले को साबित करना बहुत मुश्किल होगा.

अगर वे दोषी साबित होते, तो उन्हें 10 साल तक की सजा हो सकती थी. जर्मन कानून के तहत जज, सरकारी और बचाव पक्ष के वकील आपस में रजामंदी करके किसी मामले को बाहर सुलटा सकते हैं. हालांकि कानून इस तरह के मामलों के बारे में बिन्दुवार ब्योरा देता है.

न्यायालय की प्रवक्ता आंद्रेया टित्स ने कहा कि इसका मतलब यह नहीं कि कोई दोषी है, "इस तरह के अंत के साथ इस मामले में किसी के दोषी या निर्दोष होने पर फैसला नहीं हुआ है. उन्हें न तो रिहा किया गया है और ना ही दोषी ठहराया गया है. बल्कि यह एक विशेष प्रकार का अंत है."

मुकदमे के दौरान एक्लेस्टन के साथ उनकी पत्नी फाबियाना फ्लोसी भी मौजूद थीं. इस उम्र के बावजूद एकलस्टन पूरी तरह फिट नजर आते हैं और फॉर्मूला वन के लगभग सभी रेसों में मौजूद रहते हैं.

एजेए/एमजे (रॉयटर्स, एएफपी)