1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मनी को जानिए

होटल प्राइस वार से बर्लिन की उभरती नई तस्वीर

जर्मनी की राजधानी बर्लिन को यूरोप में सबसे सस्ती होटल सुविधाओं के लिए जाना जाता है. लग्जरी होटल इंडस्ट्री के लगातार होते विस्तार से बर्लिन भी अछूता नहीं है.लेकिन इसके बावजूद सस्ती होटल सुविधाएं प्राइस वार से अछूती है.

default

सस्ते होटलों के कारण बर्लिन की ओर खिंचे चले आने वाले सैलानियों की संख्या पर शहर में पनपती पांच सितारा संस्कृति कोई खास असर नहीं डाल पाई है. फाइव स्टार होटल हर तरह की सुविधाओं से लोगों को अपनी ओर खींचना चाह रहे हैं लेकिन कीमत के मसले में उन्हें चिंता का सामना करना पड़ रहा है. कई बड़े होटल चाहते हैं कि वह बीमारी से जूझ रहे अपने ग्राहकों हेल्थ केयर जैसा माहौल दें. कुछ होटल खास तरह की रुचि रखने वालों अपने अपने होटल में शौक पूरा करने का न्योता देकर लुभा रहे हैं. लेकिन सस्ते होटल अब भी सीना तान कर खड़े हैं.

इसका दोहरा फायदा हो रहा है. एक ओर शहर का पर्यटन उद्योग तरक्की की राह पर हैं वहीं दूसरी ओर प्राइस वार के कारण सैलानियों को सस्ती कीमत पर पांच सितारा होटल का लुत्फ उठाना भी मुमकिन हुआ है. इतना ही नहीं दुनिया के खूबसूरत शहरों में शुमार बर्लिन में होटल इंडस्ट्री कम कीमत के दबाव से मुक्त होकर अपना प्रसार कर रही हैं.

Aktion Licht aus! Fuer unser Klima Berlin

बर्लिन की सबसे ऊंची इमारत एलेक्स

हालांकि पर्यटन विशेषज्ञों को पहले से चल रहे पुराने होटलों के लिए कड़ी प्रतियोगिता के कारण भविष्य में मामूली सी परेशानी का सामना करने की आशंका है. हालांकि पहले से जमे जमाए सस्ते होटलों की वजह से नए होटलों भी इस चिंता से अछूते नहीं हैं. बर्लिन की खास पहचान ब्रांडेनबुर्ग गेट के पास मौजूद एडलन होटल को हाल ही में खरीदने वाले ओलिवर एलर ने बताया कि अब प्रतियोगिता बढ़ गई है और मंजिल आसान नहीं है. पांच सितारा होटल के संचालन में महारथ रखने वाले एलन का मानना है कि बर्लिन की सस्ते होटल की पहचान कायम रखने की चुनौती मंहगी भी साबित हो सकती है. लग्जरी सुविधाएं सस्ती कीमत पर मुहैया कराना आसान नहीं है.

उनका मानना है कि बर्लिन की दीवार गिरने बाद पिछले 20 सालों में शहर के स्वरूप में खासा बदलाव आया है और इसका असर होटल इंडस्ट्री पर भी पड़ा है. शहर में इस दौरान लगभग 20 पांच सितारा होटल वजूद में आए और कई अन्य पाइपलाइन में हैं. प्राइस वार के कारण अधिक से अधिक ग्राहकों को अपनी ओर खींचने की जद्दोजेहद का भी होटलों को सामना कर पड़ रहा है.

कुल मिलाकर बर्लिन शहर में होटल इंडस्ट्री के लिए इस दौर को "बूम" की स्थिति कहा जा सकता है. इसकी वजह से शहर में पर्यटन उद्योग लगातार उछाल पर है. इस वजह से वह दिन दूर नहीं जब बर्लिन के होटलों में रुकने वाले मेहमानों की संख्या सालाना 2 करोड़ तक पंहुचने का लक्ष्य हासिल कर ले.

रिपोर्टः डीपीए/निर्मल

संपादनः ओ सिंह