1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

हॉरर क्वीन की उपाधि से खुश हैं बिपाशा

बॉलीवुड अभिनेत्री बिपाशा बसु ने अपने अब तक के फिल्मी करियर में कई भूतिया विषयों पर काम किया किया. 'हॉरर फिल्मों की क्वीन' की उपाधि दिए जाने से उन्हें कोई परेशानी नहीं.

बंगाली बाला बिपाशा बसु ने अपने करियर के दौरान राज, आत्मा, क्रियेचर थ्रीडी जैसी कई हॉरर फिल्मों में काम किया है. बिपाशा उन्हें मिली 'हॉरर क्वीन' की उपाधि से बेहद खुश हैं. बिपाशा का कहना है कि अगर जनता उनकी फिल्मों को देखती है और उसका मनोरंजन होता है तो वह अपनी हॉरर क्वीन की उपाधि से खुश हैं.

बिपाशा ने कहा, "मैंने अभी तक 60 फिल्मों में काम किया है और उनमें से आधी फिल्में भुतहा शैली की थीं. लेकिन हाल ही में मैंने कई और भुतहा फिल्में की हैं. मेरी हॉरर क्वीन बनने की कोई योजना नहीं थी. अगर आप मुझे हॉरर क्वीन बुलाते हैं तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है." बिपाशा कहती हैं कि अगर लोगों को उनकी फिल्में देखना पसंद है और उनको मजा आता है तो वो इसी से खुश हैं. वह कहती हैं, "मैं ऐसी फिल्में करना चाहती हूं जिसका किरदार मुझे खुश करे, दर्शकों का मनोरंजन करे और इसमें काम करने के लिहाज से कुछ नया हो. मैं फिल्में पसंद करते समय इन्हीं बातों पर ध्यान देती हूँ."

"मैं ही नहीं सलमान और अक्षय भी टाइपकास्ट है"

बिपाशा ने टाइपकास्ट होने संबंधी एक सवाल के जवाब में कहा, "सलमान खान और अक्षय कुमार जैसे बड़े सितारे भी आजकल एक ही तरह का किरदार और एक ही तरह की फिल्में करते हैं. क्योंकि इनके ये रोल और फिल्में दर्शकों को पसंद आती हैं और हिट होती हैं इसलिए इन बड़े सितारों को भी एक जैसी फिल्मों से परहेज नहीं है. जो चीज या जो फिल्म सफल होती हैं उसके फॉर्मूलों को दोहराया जाता है. यही वजह है कि अलग तरह की फिल्में हमारी इंडस्ट्री में कम बनती हैं. करीब करीब एक जैसे फॉर्मूले होते हैं जिनके पीछे सब लगे रहते हैं और इसमें कुछ बुरा भी नहीं है क्योंकि हम सबका काम है मनोरंजन करना."

एए (वार्ता)/आरआर

DW.COM

संबंधित सामग्री