1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

हॉकी सेक्स स्कैंडल की जांच पुलिस करेगी

भारतीय महिला हॉकी टीम के कोच एमके कौशिक पर लगे यौन शोषण के आरोपों की जांच दिल्ली पुलिस करेगी. हॉकी इंडिया ने कौशिक के खिलाफ दर्ज की शिकायत पुलिस को बढ़ाई. हॉकी इंडिया ने माना कि कौशिक पर लगे आरोप हवाई नहीं हैं.

default

हॉकी पर दाग

हॉकी इंडिया के महासचिव नरिन्दर बत्रा के मुताबिक महिला खिलाड़ियों की शिकायतों को गंभीर मानते हुए जांच दिल्ली पुलिस को सौंप दी गई है. सूत्रों का कहना है कि हॉकी इंडिया ने कोच पर लगे आरोपों को अपने स्तर पर सही पाया है.

कुछ खिलाड़ियों के बाद दो दिन पहले टीम की खिलाड़ी टी रंजीता देवी ने भी कौशिक पर यौन शोषण के आरोप लगाए. रंजीता के मुताबिक कौशिक ने उन्हें यौन संबंध बनाने का प्रस्ताव दिया. उन्हें अपने कमरे में बुलाकर बिस्तर की ओर इशारा किया और कहा, "मैं सेक्स के लिए 24 घंटे तैयार हूं."

हॉकी इंडिया का कहना है कि रंजीता बेहद विश्वनीय चरित्र की महिला हैं. लिहाजा उनकी सटीक शिकायत को कतई नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. पूर्व कप्तान हेलेन मैरी भी कौशिक पर ऐसे आरोप लगा चुकी हैं. उनका कहना है कि कौशिक की हरकतों की वजह से उन्होंने हॉकी खेलना ही छोड़ दिया.

कौशिक के अलावा टीम के वीडियोग्राफर बासव्रज पर भी यह आरोप हैं कि वह चीन के दौरे पर सेक्स वर्करों के साथ वक्त बिताते रहे. यह खुलासा तस्वीरों के जरिए हुआ. हॉकी इंडिया का कहना है कि अब कौशिक और बासव्रज को कभी हॉकी संघ ने नहीं जोड़ा जाएगा. बासव्रज को बर्खास्त किया जा चुका है.

वहीं कौशिक खुद को बेकसूर बता रहे हैं. आरोप लगते ही उन्होंने पद से इस्तीफा दिया और कहा कि जब तक जांच पूरी नहीं होती; वह कोच के पद पर नहीं लौटेंगे. अब हॉकी इंडिया ने भी साफ कर दिया है कि कौशिक चाहें भी तो अब कभी भारतीय हॉकी से नहीं जुड़ सकेंगे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार