1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

हॉकी का गोल्ड पाक को, भारत को कांस्य

एशियाई खेलों में पाकिस्तान ने मलेशिया को 2-0 से हरा कर बीस साल बाद हॉकी का स्वर्ण पदक जीता है. भारत दक्षिण कोरिया को हरा कर सिर्फ कांस्य पदक ही जीत पाया. आठ साल बाद भारत को हॉकी में पदक मिला.

default

बीस साल बाद गोल्ड

पाकिस्तान के सीनियर खिलाड़ी सोहेल अब्बास ने खेल के 26वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर अपनी टीम को बढ़त दिला दी. हाफ टाइम के तीन मिनट बाद रेहान बट ने दूसरा गोल किया. पाकिस्तान के लिए यह हॉकी में यह आठवां स्वर्ण पदक है. पिछली बार 1990 के पेइचिंग ओलंपिक में उसने स्वर्ण पदक जीता था. 1994 में सिडनी में खेले गए विश्व कप को जीतने के बाद यह पाकिस्तान के लिए पहली बड़ी खिताबी जीत है. इस जीत के साथ ही पाकिस्तान ने लंदन ओलिम्पिक के हॉकी मुकाबलों के लिए सीधे क्वालिफाई कर लिया है.

वैसे पाकिस्तान के लिए पिछले आठ महीने खासे निराशा वाले रहे. मार्च में खेले गए हॉकी वर्ल्ड कप में उसे सबसे नीचे 12वें स्थान पर रहना पड़ा. अक्टूबर में हुए कॉमनवेल्थ खेलों भी वह छठे नंबर पर ही आ सका. मैच जीतने के बाद पाकिस्तान खिलाड़ियों ने घुटनों पर झुक कर दुआ की. वहीं हॉकी में हमेशा से लचर प्रदर्शन करने वाले मलेशिया को रजत पदक मिला.

इस बीच भारत भी पदक मंच पर दिखा. उसने दक्षिण कोरिया को 1-0 से हरा कर कांस्य पदक जीता. भारत के लिए हाफ टाइम के बाद चौथे मिनट में तुषार खांडेकर ने गोल किया. पूरे मैच में भारत हावी दिखा. चार साल पहले दोहा में हुए एशियाई खेलों में भारत पहली बार कोई हॉकी पदक नहीं जीत पाया. इसकी उसे कहीं बड़ी कीमत चुकानी पड़ी जब वह दो साल पहले हुए पेइचिंग ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर पाया.

मैच के दौरान सेकंड हाफ में भारतीय खिलाड़ियों की पाकिस्तानी अंपायर हैदर रसूल से एक विवादास्पद पेनल्टी कॉर्नर पर बहस हो गई, हालांकि दक्षिण कोरिया ने इसे गंवा दिया. भारत के स्पेनिश कोच खोसे ब्रासा ने कहा कि कांस्य पदक उनकी टीम के लिए सिर्फ इनाम नहीं है. वह कहते हैं, "मुझे लगता है कि हम हॉकी में बेहतरीन थे. हमने छह में पांच मैच जीते. मैं यह तो नहीं कह सकता कि खुश हूं लेकिन कम से कम खिलाड़ी खाली हाथ घर नहीं लौट रहे हैं."

सभी चारों लीग मैच जीतने वाली भारतीय टीम को मलेशिया ने गोल्डन गोल की बदौलत सेमीफाइनल में हरा दिया. बुसान और दोहा में हुए पिछले दो एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली दक्षिण कोरिया टीम हैट्रिक नहीं बना सकी. वह सेमीफाइल मुकाबले में पनेल्टी शूट आउट में पाकिस्तान से हार गई.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM