1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

हैरी पॉटर के कारण घट रहे हैं उल्लू

भारत में उल्लुओं की संख्या घट रही है. पर्यावरणविद परेशान हैं. लेकिन इसकी वजह इतनी अजीब बताई गई है कि उसका हल खोजना मुश्किल हो रहा है. उल्लू संकट के लिए हैरी पॉटर जिम्मेदार हैं.

default

बच्चों के उपन्यास और उसके आधार पर बनी फिल्मों का एक किरदार हैरी पॉटर उल्लू संकट के लिए कैसे जिम्मेदार हो सकता है, यह बात खुद भारत के पर्यारवरण मंत्री जयराम रमेश समझा रहे हैं. असल में हैरी पॉटर पर इल्जाम लगाने वाले भी रमेश ही हैं. उनका कहना है कि पॉटर की वजह से बच्चों को उल्लुओं में दिलचस्पी पैदा हो गई है और वे उन्हें पालने लगे हैं.

Harry Potter and the Deathly Hallows - Cover

हैरी पॉटर की किताब और फिल्में बेहद सफल रही हैं. भारत में भी वे काफी लोकप्रिय हैं. इस कहानी में एक उल्लू का जिक्र आता है. हेडविग नाम का यह उल्लू हैरी पॉटर का साथी है और उसकी डाक लाने ले जाने का काम करता है.

बस यही जयराम रमेश की परेशानी का सबब है. वह कहते हैं, "हैरी पॉटर की देखादेखी शहरी मध्यवर्ग के बच्चों में उल्लुओं के प्रति अद्भुत आकर्षण पैदा हो गया है."

हाल ही में वन्य जीवन पर काम करने वाली एक संस्था ट्रैफिक ने अपनी रिपोर्ट दी है. खतरे में रात के पहरेदार नाम की यह रिपोर्ट उल्लुओं की स्थिति पर है. इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि भारत में उल्लुओं की तादाद तेजी से घट रही है.

उल्लुओं पर शोध करने वालों का मानना है कि भारत में तंत्र मंत्र या काले जादू से जुड़ी परंपराओं के कारण उल्लुओं के शिकार और व्यापार को बढ़ोतरी मिली है. ट्रैफिक का कहना है कि दिवाली का त्योहार भी उल्लुओं के लिए मुसीबत है क्योंकि कई इलाकों में इस दौरान उनकी बलि दी जाती है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links