1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

हैम्बर्ग में मिला विशालकाय स्वास्तिक

कभी कभी रोजमर्रा का काम करते हुए कुछ ऐसा हो जाता है जिसकी आप उम्मीद ही नहीं करते. हैम्बर्ग में एक स्पोर्ट्स फील्ड में खुदाई कर रहे मजदूरों के साथ कुछ ऐसा ही हुआ.

हैम्बर्ग के एक स्पोर्ट्स क्लब में कुछ बदलाव होने थे, इसलिए यहां के मैदान में खुदाई का काम चल रहा था. इसी दौरान जमीन से 40 सेंटीमीटर नीचे कंक्रीट से बना एक ढांचा सा दिखा. मजदूरों ने बहुत ध्यान से इस पर से मिट्टी हटायी. अंत में जो मिला, उसे देख कर वे हैरान रह गये. यह एक विशालकाय स्वास्तिक था, जिसका आकार 13 गुणा 13 फीट बताया गया है.

जर्मनी में स्वास्तिक नाजी काल की निशानी है. हिन्दू धर्म में इस्तेमाल होने वाले स्वास्तिक को हिटलर ने अपनी पार्टी के निशान के रूप में इस्तेमाल किया. आज उग्रदक्षिणपंथी इसका इस्तेमाल करते हैं. जर्मनी में कपड़ों या गहनों में किसी भी रूप में स्वास्तिक पहनने पर मनाही है क्योंकि इसे यहूदियों पर हुई त्रासदियों के साथ जोड़ कर देखा जाता है.

बिलश्टेट हॉर्न नाम के स्पोर्ट्स क्लब के अध्यक्ष योआखिम शिर्मर ने समाचार एजेंसी डीपीए को बताया कि इस जगह पर 70 के दशक में एक नाजी स्मारक था, जिसे बाद में यहां से हटा दिया गया था. शिर्मर ने बताया कि स्वास्तिक इतना बड़ा था कि उसे वहां से हटाना भी मुश्किल था. शिर्मर के अनुसार ड्रिलिंग मशीन की मदद से इस कंक्रीट के छोटे छोटे टुकड़े किये गये. नगरपालिका की एक प्रवक्ता ने बताया कि स्वास्तिक की जानकारी मिलते ही, उसे वहां से हटाने के लिए टीम भेज दी गयी क्योंकि उन्हें डर था कि उग्रदक्षिणपंथी वहां पहुंच सकते हैं.

जर्मनी में कई बार अराजक तत्व स्प्रे पेंट से लोगों के घरों या गाड़ियों पर स्वास्तिक बना देते हैं. पकड़े जाने पर इन्हें सजा और जुर्माना, दोनों हो सकते हैं. अमेरिका में भी डॉनल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद कई जगह स्वास्तिक बना दिखा.  

आईबी/ओएसजे (डीपीए, एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री