1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

हेयर: पाक क्रिकेटर झूठे और बेईमान हैं

पूर्व अंपायर डैरेल हेयर ने पाकिस्तान के क्रिकेटरों को बेईमान, झूठा और धोखेबाज करार दिया है. हेयर ने आईसीसी की यह कहते हुए आलोचना की है कि गेंद से छेड़छाड़ के मामले में शोएब अख्तर के खिलाफ सबूत के बावजूद कार्रवाई नहीं की.

default

विवादास्पद डैरेल हेयर ऑस्ट्रेलियाई अंपायर रह चुके हैं और उन्होंने 78 टेस्ट और 135 वनडे मैचों में अंपायरिंग की. डैरेल हेयर का कहना है, "क्रिकेट प्रशंसक, दर्शक और अन्य लोग बेईमानों और झूठ बोलने वालों को देख रहे हैं. कब तक लोग अपने पैसे खर्च कर ऐसे मैचों को देखते रहेंगे जिसमें खिलाड़ी धांधली करते हैं और नतीजा पहले से ही फिक्स होता है. आईसीसी को शर्म आनी चाहिए कि वो ऐसे मैच कराने की अनुमति देती है."

Pakistanische Spieler im Freudentaumel

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को कैमरे पर बॉल की सिलाई के साथ छेड़छाड़ करते हुए दिखाया गया. हेयर कहते हैं, "न झुठलाए जाने वाले सबूतों के बावजूद आईसीसी ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है. लेकिन आईसीसी का रिकॉर्ड ही ऐसा रहा है. वह अपने ही खेल पर नियंत्रण रखने में नाकाम रही है. दुर्भाग्य यह है कि पाकिस्तानी क्रिकेटर खेल के प्रति कोई आदर का भाव नहीं दिखाते और लगातार बेईमानी की ताक में रहते हैं."

2006 में ओवल टेस्ट के चौथे दिन डैरेल हेयर और वेस्ट इंडीज के अंपायर बिली डॉक्ट्रोव ने साफ किया था कि पाकिस्तानी टीम ने बॉल टैंपरिंग की है जिसके चलते इंग्लैंड को पांच रन पेनल्टी के रूप में दे दिए गए. साथ ही बॉल बदल भी दी गई. जब चायकाल के बाद पाकिस्तान की टीम ने विरोध जताते हुए मैच खेलने से इंकार कर दिया तो अंपायरों ने पाकिस्तान को मैदान पर आने के लिए कहा और खुद पिच पर पहुंच गए.

लेकिन पाकिस्तान की टीम मैदान पर नहीं आई जिसके बाद अंपायर हेयर ने बेल्स गिराते हुए इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया. 25 मिनट बाद पाकिस्तानी खिलाड़ी मैदान पर लौटे जरूर और इंग्लैंड की टीम भी वापसी के लिए तैयार थी लेकिन इस बार दोनों अंपायर अड़ गए. हेयर के करियर पर उस समय संकट के बादल छा गए जब आईसीसी ने बताया कि हेयर 5 लाख डॉलर के बदले में इस्तीफा देना चाहते हैं.

अगले साल हेयर आईसीसी को अदालत में घसीट कर ले गए और उन्होंने अपने खिलाफ रंगभेद का आरोप लगाया. आईसीसी ने नवंबर 2006 के बाद उन पर अंपायरिंग करने से पांबदी लगा दी थी.

अदालत के बाहर मामला सुलट जरूर गया और हेयर ने दो टेस्ट मैचों में अंपायरिंग भी जरूर की लेकिन फिर वह रिटायर ही हो गए. जब उनसे पूछा गया कि इंग्लैड दौरे पर जो कुछ हुआ उससे क्या वह दोषमुक्त महसूस कर रहे हैं तो उन्होंने जवाब में कहा, "हां, शायद अब और लोग समझ सकेंगे कि मैंने 2006 में वो फैसला क्यों किया."

ब्रिटेन के एक अखबार को हेयर ने बताया कि पाकिस्तान के इंग्लैंड दौरे में जो कुछ हुआ उससे उनकी बात सही साबित होती है. इंग्लैंड दौरे पर पाकिस्तान के तीन खिलाड़ियों मोहम्मद आमेर, मोहम्मद आसिफ और सलमान बट पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लगे और उन्हें निलंबित कर दिया गया. उन पर पैसे लेकर पहले से तय समय पर नो बॉल फेंकने का आरोप है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एन रंजन

WWW-Links