1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

हेडली से पूछताछ के लिए अमेरिका जाएगी टीम

मुंबई हमले में लश्कर ए तैयबा की मदद के आरोपी डेविड हेडली से पूछताछ के लिए भारतीय टीम रविवार को अमेरिका के लिए रवाना हो रही है. अगले हफ्ते हो सकती है हेडली से पूछताछ. लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं कि कितनी देर की इजाजत मिली.

default

अमेरिका रवानगी के लिए तैयार भारतीय टीम में तीन जांचकर्ता नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) से हैं और एक कानूनी मामलों के अधिकारी हैं. आधिकारिक सूत्रों ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि डेविड हेडली से पूछताछ अगले हफ्ते हो सकती है.

अमेरिकी न्याय विभाग से भारत को सूचना भेजी गई है कि डेविड हेडली के वकील और सभी संबंधित अधिकारी भारतीय टीम की यात्रा के दौरान उपलब्ध रहेंगे और उन्हें हेडली से पूछताछ में हर तरह की मदद उपलब्ध कराई जाएगी.

हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि चार सदस्यीय भारतीय टीम को कितने घंटे या कितने दिन के लिए हेडली से पूछताछ की इजाजत मिली है. हेडली पिछले साल अक्तूबर में शिकागो में पकड़ा गया. हेडली पर आरोप है कि मुंबई हमलों से पहले अहम जानकारी जुटाने के लिए उसने कई बार मुंबई के ठिकानों के चक्कर लगाए.

शुरुआत में उसने मुंबई हमलों की साज़िश और डेनमार्क के अख़बार पर हमलों की तैयारी के आरोपों से इनकार कर दिया. लेकिन अचानक उसने पाला बदलते हुए खुद पर लगे सभी 12 आरोप स्वीकार कर लिए और जांच में पूरा सहयोग देने का वादा किया. इसके बदले उसे मौत की सजा से छुटकारा मिल गया है. मुंबई हमलों में 166 लोग मारे गए थे.

मुंबई हमलों के आरोपी डेविड कोलमैन हेडली के सभी आरोप स्वीकार करने के बाद उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी. इस स्वीकारोक्ति से उसका भारत, पाकिस्तान, डेनमार्क को प्रत्यर्पण नहीं किया जा सकता है. भारत ने कहा था कि आजीवन कारावास मिलने पर संतुष्ट है. पिछले काफी समय से भारत इस कोशिश में था कि हेडली से पूछताछ की इजाजत मिले और अब वह कोशिश सफल होती नजर आ रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संबंधित सामग्री