1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

हार्टब्लीड में पहली गिरफ्तारी

इंटरनेट जगत में हार्टब्लीड बग से मची अफरा तफरी के बीच पहली गिरफ्तारी हुई है. कनाडा पुलिस ने 19 साल के हैकर को गिरफ्तार किया है. उस पर टैक्स एजेंसी की वेबसाइट से करदाताओं का डाटा चुराने का आरोप है.

रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस के मुताबिक स्टीफन आर्थरो सोलिस-रेयस को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तारी मंगलवार को ओंटारियो शहर में हुई. 19 साल के सोलिस रेयस को घर से गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने उसके घर से कंप्यूटर जब्त किया है. आरोपी वेस्टर्न यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस का छात्र है.

पिछले शुक्रवार को कनाडा रेवेन्यू एजेंसी को अपनी सार्वजनिक वेबसाइट बंद करनी पड़ी. अधिकारियों के मुताबिक हार्टब्लीड बग का सहारा लेकर उसकी वेबसाइट से 900 सोशल इंश्योरेंस नंबर चुराए गए.

पुलिस ने बयान जारी कर कहा है, "ऐसा माना जा रहा है कि सोलिस-रेयस हार्टब्लीड बग के सहारे सुरक्षा की कमजोरी का पता लगाकर सीआरए की निजी जानकारी निकालने में कामयाब रहा."

पिछले हफ्ते ही सामने आया हार्टब्लीड बग असल में सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग की एक कमजोरी है. ओपन एसएसएल सॉफ्टवेयर की मदद से बनी वेबसाइटों की इस कमी का फायदा हैकरों को होता है. कमजोरी के सहारे कई गोपनीय जानकारियां चुराई जा सकती है. इसके सहारे इनक्रिप्टेड डाटा जैसी गोपनीय जानकारी पर भी सेंध लगाई जा सकती है.

हार्टब्लीड का पता चलने के बाद डाटा सिक्युरिटी विशेषज्ञों ने इंटरनेट यूजर्स से पासवर्ड बदलने की अपील की है. इंटरनेट की दुनिया में जितनी वेबसाइटें हैं, उनमें से करीब आधी ओपन एसएसएल सॉफ्टवेयर पर आधारित हैं. सभी में हार्टब्लीड का एक जैसा खतरा नहीं है. साइबर सिक्योरिटी फर्म फॉक्स-इट के मुताबिक हार्टब्लीड दो साल से इंटरनेट जगत में बना हुआ है. ओपन एसएसएल सॉफ्टवेयर के बाजार में आने के साथ ही यह कमी भी सामने आई थी. इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल इंटरनेट के लिए दिए जाने वाले पासवर्ड, क्रैडिट कार्ड नंबर और दूसरे डाटा की सुरक्षा के लिए किया जाता है.

ओएसजे/एएम (एपी, एएफपी)