1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

हारने के लिए इंग्लैंड टीम को दिए गए पैसे: पीसीबी

इंग्लैंड के क्रिकेटरों पर गंभीर आरोप लगाते हुए पीसीबी चेयरमैन इजाज बट ने कहा है कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों के बजाए जांच इंग्लैंड की टीम होनी चाहिए क्योंकि उसे ओवल वनडे हारने के लिए भारी भरकम रकम दी गई.

default

इजाज बट

ओवल वनडे में पाकिस्तान ने इंग्लैंड को हरा दिया था लेकिन फिक्सिंग के आरोप में अब उस मैच की जांच हो रही है. दुनिया टीवी के साथ इंटरव्यू में इजाज बट ने आरोप लगाया, "सट्टेबाजी के बाजार में चर्चा गर्म है कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों को काफी पैसा दिया गया ताकि वे मैच हार जाएं. इसलिए किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिए कि इंग्लैंड की बल्लेबाजी ढह गई. पाकिस्तान ने मैच जीता और संदेह का घेरा भी हम पर आ गया. मैच इंग्लैंड ने हारा है. जांच उसके खिलाड़ियों की होनी चाहिए."

Pakistan Cricket Manipulation

बेहद गुस्से में नजर आ रहे इजाज बट ने कहा कि जो टीम मैच जीतती है वह मैच फिक्स नहीं करती. बट ने फिर दोहराया कि पाकिस्तान टीम को बदनाम करने के लिए ही स्पॉट फिक्सिंग की साजिश रची गई है. "बुकीज में चर्चा है कि इंग्लैंड के खिलाड़ी सट्टा लगा रहे हैं. वे कहते हैं कि बुकीज को बदनाम करने की साजिश हो रही है, हमें लगता है कि पाकिस्तान क्रिकेट से विश्वास खत्म करने की साजिश है."

बट ने कहा कि उनकी टीम के खिलाफ साजिश रची जा रही है और पाकिस्तान ने अपने स्तर पर जांच कराने का फैसला लिया है. बट के मुताबिक पाकिस्तान आईसीसी के सामने भी विरोध दर्ज कराएगा कि तीसरे वनडे की जांच का फैसला लेने से पहले उसे विश्वास में क्यों नहीं लिया गया.

ब्रिटेन के एक अखबार ने खबर छापी कि पाकिस्तानी पारी में बल्लेबाजों के स्कोर दुबई और भारत के बुकीज द्वारा निर्धारित स्कोर से मिलते जुलते दिखे जिसके बाद आईसीसी ने मैच की जांच कराने का फैसला किया.

पाकिस्तान पहले ही स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में घिरा है और उसके तीन खिलाड़ियों मोहम्मद आमेर, मोहम्मद आसिफ और सलमान बट को आईसीसी निलंबित कर चुकी है. उन पर आरोप है कि पैसे लेकर उन्होंने निश्चित समय पर नो बॉल फेंकी. लेकिन पाकिस्तान ने इन आरोपों से इनकार किया है और कहा है कि उसके खिलाड़ियों को जानबूझकर बेईमान साबित करने की कोशिश की जा रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links