1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

हराया भी, चिढ़ाया भी

चैंपियंस लीग के अहम मुकाबले में जर्मन क्लब बायर्न म्यूनिख ने इंग्लैंड के क्लब आर्सेनल को हराया. फुटबॉल में जर्मनी और इंग्लैंड कट्टर प्रतिद्वंद्वी हैं. जीत के बाद बायर्न के कोच ने इंग्लिश प्रशंसकों को चिढ़ा भी दिया.

आर्सेनल को 3-1 से हराने के बाद बायर्न के कोच युप हाइंकेस ने कहा, "मेरी टीम के लिए यह मैच बहुत आसान था. जब आप इंग्लैंड में इंग्लिश टीम को हराते हैं तो यह बड़ी कामयाबी होती है." 67 साल के कोच ने माना कि फिलहाल उनकी टीम जबरदस्त फॉर्म में है.

आर्सेनल अपने ही मैदान एमरिट्स स्टेडियम में फीकी नजर आई. बीते साल चैंपियंस लीग की उपविजेता टीम बायर्न ने पहले मिनट से ही आर्सेनल की रक्षापंक्ति का इम्तिहान लेना शुरू कर दिया. 20 मिनट भीतर जर्मन टीम ने आर्सेनल को दो गोल डाउन कर दिया. पहला गोल सातवें मिनट में टोनी क्रूज ने किया, इसमें आर्सेनल के डिफेंडर की बेवकूफी का बड़ा योगदान रहा. उन्होंने गोल के सामने क्रूज को बिना चेक किए खुला छोड़ा था. दूसरा गोल शानदार चिप लगाकर थोमास म्यूलर ने दागा. पहला हाफ पूरी तरह बायर्न के नियंत्रण में रहा.

टीम के प्रंशसकों के चेहरे पर उत्साह की पहली किरण 55वें मिनट में पड़ी, वो भी जर्मन खिलाड़ी की वजह से. आर्सेनल के लिए खेलने वाले जर्मनी के लुकास पोडोल्स्की ने कॉर्नर को शानदार गोल में बदला. बायर्न के म्यूलर, क्रूज, गोमेज, लाम और श्वाइनश्टाइगर जैसे खिलाड़ी जर्मनी की राष्ट्रीय टीम में पोडोल्स्की के साथ खेलते हैं. बार्यन के गोलकीपर मानुएल नॉयर के पास भी अपने साथी लुकास के चतुर ढंग से मारे हेड का जबाव नहीं था. इसके बाद आर्सेनल ने बराबरी के लिए जान लगा दी. 72वें मिनट में टीम ने मेहमानों के गोलपोस्ट पर भी फिर से जोरदार किक मारी लेकिन नॉयर ने इसे नाकाम कर दिया.

Fußball Champions League Bayern München Arsenal FC

पोडोल्स्की का गोल

घरेलू टीम का मनोबल बढ़ाने के लिए स्टेडियम में आर्सेनल के समर्थन में नारे लगने लगे, लेकिन हो हल्ला ज्यादा लंबा नहीं चला. पांच मिनट बाद ही मांजुकिच, फिलिप लाम और आयर्न रोबेन ने आर्सेनल की रक्षापंक्ति को भेद दिया. मांजुकिच ने गेंद पर बस हल्का सा पैर लगा दिया. बॉल बाउंस होकर जाली से टकरा गई. स्कोरबोर्ड के साथ ही मैच का नतीजा आर्सेनल के प्रशंसकों के चेहरे पर दिखाई देने लगा.

बायर्न के लिए यह जीत मनोबल बढ़ाने वाली है. टीम बीते 18 मैचों में एक भी मैच नहीं हारी है. वह जर्मन फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा की चोटी पर है. इस साल अब तक खेले गए छह मुकाबले बायर्न ने जीते हैं. लंदन में आर्सेनल को हराने के बाद अब जर्मन शहर म्यूनिख में एक बार फिर दोनों टीमों का सामना होगा. चैंपियंस लीग में आगे बढ़ने के लिए आर्सेनल को अब 13 मार्च को हर हाल में बायर्न को कम से कम तीन गोल से हराना होगा.

El Clasico Barcelona Real Madrid

बार्सिलोना की राह आसान

एक और बड़ा मुकाबला

चैंपियंस लीग के एक अन्य मुकाबले में पुर्तगाल के क्लब पोर्तो ने स्पेन के क्लब मालगा को 1-0 से हराया. मैच पोर्तो में खेला गया. चैंपियंस लीग की आखिरी 16 टीमों के बीच मंगलवार और बुधवार को मैच खेले जाते हैं. बुधवार को भी फुटबॉल प्रेमियों के सामने एक बड़ा मुकाबला है. इटली के क्लब एसी मिलान का सामना बार्सिलोना से होना है. मैच मिलान में खेला जाएगा. वहीं इंस्ताबुल में जर्मन क्लब शाल्के तुर्क क्लब गलाटासारे से भिड़ेगा.

ओएसजे/ (एएफपी, डीपीए)

DW.COM

WWW-Links