1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

हनीमून किलर अमेरिका के हवाले

हनीमून किलर के नाम से कुख्यात डेविड वाटसन को ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने उसके देश अमेरिका को सौंप दिया है. इस बात के पूरे आसार हैं कि उस पर अमेरिका में मुकदमा चलेगा. वैसे अमेरिकी अधिकारियों ने फांसी नहीं देने का वादा किया है.

default

हनीमून का दर्दनाक अंत

33 साल के वाटसन ने गुरुवार को अप्रवासन और पुलिस अधिकारियों के साथ अमेरिका के लिए उड़ान भरी. अमेरिका ने उसे फांसी की सजा नहीं देने का तो भरोसा दिया है लेकिन उम्रकैद की सजा से बच पाना उसके लिए मुश्किल होगा.

2003 में क्रिस्टीना वाटसन शादी के बाद हनीमून मनाने ऑस्ट्रेलिया गई. वहां ग्रेट बैरियर रीफ में गोताखोरी के दौरान डूबने से उसकी मौत हो गई. क्रिस्टीना का पति डेविड एक पेशेवर बचाव गोताघोर है. बावजूद इसके वह अपनी पत्नी को बचाने में नाकाम रहा. इसके बाद डेविड के खिलाफ जांच शुरू हुई और यह साबित हुआ कि क्रिस्टीना की मौत में उसके पति की भी भूमिका थी. ऑस्ट्रेलियाई कोर्ट में चली सुनवाई में यह भी सामने आया कि उसने इंश्योरेंस का पैसा पाने के लिए अपनी पत्नी की हत्या की. अमेरिका लौटने के बाद जल्दी ही उसने दूसरी शादी भी कर ली.

2008 में कोर्ट की कार्रवाई के लिए डेविड ने खुद को ऑस्ट्रेलियाई सरकार के हवाले कर दिया. ग्लासगो की कोर्ट ने यह माना कि वाटसन ने जानबूझ कर अपनी बीवी की मदद नहीं की ताकि पानी के अंदर दम घुटने से उसकी मौत हो जाए. सुनवाई के दौरान यह बात भी सामने आई कि डेविड ने क्रिस्टीना के साथ ज्यादा वजन बांधा और उसके आक्सीजन की सप्लाई भी काट दी. किसी सैलानी ने इन दोनों का एक वीडियो भी शूट किया था और उसमें साफ दिखा कि उसकी पत्नी जब डूब रही थी तब वह दूसरी तरफ मुंह फेर कर तैर रहा था.

2009 में कोर्ट ने उसे साढ़े चार साल के कैद की सजा दी. सजा का एक साल ही बीता था, जब उसने सजा कम करने की अपील दायर की और उसे माफी भी मिल गई. हालांकि वह फिर भी रिहा नहीं हो सका. ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने तुरंत उसके खिलाफ अपील की जिसके बाद उसे और छह महीने के लिए जेल भेज दिया गया. 11 नवंबर को उसकी यह सजा भी पूरी हो गई, लेकिन उसे आजाद करने की बजाय अमेरिकी अधिकारियों को सौंपने का फैसला किया गया.

उधर वाटसन के गृह राज्य अल्बामा के कानूनी अधिकारियों ने डेविड को कम सजा पर हैरत जताई है और उसके खिलाफ अपहरण और हत्या के आरोप में मुकदमा चलाने की बात कही है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM