1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

हताशा की हवा को दूर भगाने की पीएम की अपील

घोटालों में घिरी सरकार और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विपक्ष के निशाना बन रहे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भले ही मुश्किल में महसूस कर रहे हों लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई कि 2011 नई शुरुआत लेकर आएगा जिससे मायूसी खत्म होगी.

default

पीएम की शुभकामनाएं

नए साल की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि 2011 में नई शुरुआत होगी और सरकार कोशिश करेगी कि भ्रष्टाचार से सख्ती से निपटा जाए ताकि जनता में फैली हताशा को दूर किया जा सके. नए साल पर अपने संदेश में उन्होंने कहा कि यह समय पिछले साल की घटनाओं का जायजा लेने और आने वाले साल की चुनौतियों का आकलन करने का है.

प्रधानमंत्री ने देश की जनता से अपील की है कि लोकतंत्र में उसका विश्वास बना रहना चाहिए क्योंकि इसी व्यवस्था में ताकत है कि ढांचागत कमियों से जूझ सके और उन्हें दूर कर सके. लोगों को नए साल की शुभकामनाएं देते हुए मनमोहन सिंह ने कहा, "आओ, एक नए साल की शुरुआत करें. मायूसी और नकारात्मक सोच को दूर हटाएं."

प्रधानमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार जनता के कल्याण के लिए अपने प्रयासों में मजबूती लाएगी और नए सिरे से कोशिश की जाएंगी. उन्होंने कहा, "मंहगाई को दूर करने के लिए हम अपने प्रयासों को दोगुना कर देंगे. सरकारी प्रक्रियाओं में फैले भ्रष्टाचार से मुकाबले और राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हम कड़े कदम उठाएंगे. सरकारी योजनाओं का फायदा आम आदमी तक पहुंचे, इसका पूरा ख्याल रखा जाएगा."

भारत नए साल में प्रवेश ऐसे समय में कर रहा है जब सरकार भ्रष्टाचार के मुद्दे पर जूझ रही है. 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाला, आदर्श अपार्टमेंट्स घोटाला और कॉमनवेल्थ घोटाले के सामने आने से सरकार बचाव की मुद्रा में है. इसके अलावा खाने पीने की चीजों की बढ़ती कीमतों ने आम आदमी के बजट को गड़बड़ा दिया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए कुमार

DW.COM