1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

स्वीडन में सीरियल शूटर गिरफ्तार

स्वीडन की पुलिस ने माल्मो में संभवतः उस संदिग्ध निशानेबाज को पकड़ लिया है जिसने पिछले महीनों में कई विदेशियों को अपनी गोलियों का निशाना बनाया है.

default

स्वीडिश अधिकारियों का कहना है कि 38 वर्षीय संदिग्ध निशानेबाज के खिलाफ रविवार से हत्या और हत्या की कोशिश के सात मामलों में आरोपों की जांच की जा रही है. पुलिस ने रविवार को उसे पकड़े जाने की जानकारी देते हुए बताया कि उसे शनिवार को माल्मो में उसके घर से पकड़ा गया.

पुलिस ने पकड़े गए व्यक्ति की पहचान नहीं बताई है. पकड़ते समय उसने कोई प्रतिरोध नहीं किया. पड़ोसियों ने उसे गुमसुम रहने वाला अकेला व्यक्ति बताया है.

पुलिस प्रवक्ता बौर्ये स्योहोल्म ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि संदिग्ध अपराधी की गिरफ्तारी लोगों से मिले संकेतों के आधार पर की गई है. संदिग्ध के पास हथियार का लाइसेंस है. उसके घर की तलाशी में दो हथियारों को जब्त किया गया. पूछताछ में संदिग्ध ने आरोपों को ठुकरा दिया.

अक्टूबर के अंत में ही पुलिस ने कहा था कि अक्टूबर 2009 से विदेशियों पर गोली चलाने के दर्जन से अधिक मामलों के लिए सिर्फ एक व्यक्ति जिम्मेवार है. इन हमलों में माल्मो में एक महिला की मौत हो गई थी और कुछ दूसरे लोग घायल हो गए थे. अभियुक्त सिर्फ उन पर गोली चलाता था जो देखने में विदेशी पृष्ठभूमि वाले लगते थे. इन लोगों पर बस अड्डों, उनकी गाड़ियों में या स्पोर्ट्स हॉल की खिड़की से गोली दागी गई.

माल्मो स्वीडन का तीसरा सबसे बड़ा शहर है और वहां सबसे अधिक आप्रवासी रहते हैं. आप्रवासी पृष्ठभूमि वाले लोगों पर हो रहे लगातार हमलों के कारण दो सप्ताह पहले हमलावर को पकड़ने के लिए एक विशेष पुलिस टुकड़ी बनाई गई थी.

स्वीडिश मीडिया ने अभियुक्त की तुलना एक अन्य नस्लवादी अपराधी से की है जिसने 1990 के दशक में स्टॉकहोल्म में आप्रवासियों में आतंक फैला रखा था. कुछ हमलों में लेजर वाले राइफल के इस्तेमाल के कारण लेजरमैन के नाम से प्रसिद्ध हुए उस अभियुक्त को एक साल के बाद पकड़ा गया. इस समय वह हत्या के आरोप में अति सुरक्षा वाले जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links