1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

स्पेन की जेल में कैटेलोनिया के नेता

स्पेन और कैटेलोनिया के बढ़ते टकराव के बीच अब स्पेन की अदालत ने कैटेलोनिया के दो आजादी समर्थक नेताओं को जेल में डाल दिया है. स्पेनिश न्यायाधीश के मुताबिक ये दोनों नेताओं ने कैटेलोनिया को आजादी आंदोलन को हवा दी है.

दोनों नेताओं पर राजद्रोह के आरोप हैं. कोर्ट के मुताबिक इन दोनों नेताओं ने सोशल मीडिया पर एक खास रणनीति के तहत "कैटेलोनिया की आजादी" से जुड़ा यह आंदोलन खड़ा करने में बड़ी भूमिका निभायी है. कैटेलान नेशनल एसेंबली के जोर्डी सांचेज और आजादी समर्थक ओम्नियम सांस्कृतिक समूह के जोर्डी क्यूजिआर्ट ने कथित तौर पर समर्थकों के आग्रह किया था कि वे पुलिस को काटेलान नेताओं के खिलाफ कार्यवाही करने से रोकें.   

स्पेन के न्यायाधीश कारमेन लामेला के मुताबिक, "इन दोनों नेताओं ने वेबसाइट और सोशल मीडिया का इस्तेमाल प्रदर्शनों को व्यवस्थित करने के लिए किया जो स्पेन के खिलाफ कैटेलोनिया को उकसाने की खास रणनीति का हिस्सा था." ओम्नियम सांस्कृतिक समूह ने अपने नेता के खिलाफ टि्वटर पर मुहिम छेड़ दी है. साथ ही समूह ने कहा, "मैड्रिड के खिलाफ यह विरोध जारी रहेगा और स्पेन सब लोगों को कैद नहीं कर सकता." 

इसी बीच राजद्रोह के आरोपी दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को इस शर्त के साथ रिहा किया गया कि वे अपना पासपोर्ट जमा करेंगे और हर दो हफ्ते में अदालत में हाजिरी भी देंगे. स्पेन की नेशनल कोर्ट 20 और 21 सितंबर को बार्सिलोना में हुए विरोध प्रदर्शन में शामिल चार संदिग्धों की जांच कर रही है. वहीं कैटेलोनिया के पुलिस प्रमुख पर भी राजद्रोह के आरोप लगे थे लेकिन अदालत ने उन्हें बरी कर दिया है. स्पेन की अदालत के इस फैसले को कैटेलोनिया सरकार ने उकसाने वाला कदम बताया है. हालांकि इसके पहले स्पेन की संवैधानिक अदालत कैटेलोनिया में हुए जनमत संग्रह को गैरकानूनी बता चुकी है. 

एए/ओएसजे (डीपीए, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री