1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

स्नोडेन पर किताबें

जासूसी किताबें और फिल्में पसंद करने वालों के लिए स्नोडेन के बारे में जानना दिलचस्प हो सकता है. जल्द ही बाजार में होंगी तीन किताबें, जो अमेरिकी खुफिया एजेंसी की जासूसी हरकतों का भंडाफोड़ करने वाले एजेंट से रूबरू कराएंगी.

स्नोडेन पर आधारित ये किताबें तीन अलग लेखक लिख रहे हैं. इनमें से एक द गार्डियन के लिए काम कर चुके पत्रकार ग्लेन ग्रीनवाल्ड भी हैं. उनकी किताब मार्च में बाजार में आने की उम्मीद है. अमेरिका से भागने से पहले स्नोडेन ने खुफिया एजेंसी की जासूसी हरकतों की तमाम जानकारी ग्रीनवाल्ड को सौंपी थी. इसके बाद स्नोडेन हांग कांग चले गए थे.

ग्रीनवाल्ड ने बताया, "यह किताब उस समय के बारे में है, जो मैंने स्नोडेन के साथ हांग कांग में बिताया. लेकिन ज्यादातर दस्तावेजों के आधार पर अमेरिकी निगरानी के बारे में है और इस बारे में है कि मुझे क्यों लगता है कि निगरानी खतरनाक है."

बाजार में ग्रीनवाल्ड की इस किताब को टक्कर देंगी द वॉशिंगटन पोस्ट के पूर्व ब्लॉगर बार्टन गेलमैन और द गार्डियन के पत्रकार ल्यूक हार्डिंग की किताबें.

क्या होगा किताबों में

गेलमैन ने बताया उनकी किताब स्नोडेन के इस रूप में सामने आने से पहले की कहानी है. उन्होंने कहा, "मैंने एडवर्ड स्नोडेन के सामने आने से पहले ही निगरानी पर किताब लिखना शुरू कर दिया था. उन्होंने बिना संदेह मेरी रिपोर्ट को मदद पहुंचाई है. लेकिन मौजूदा घटनाओं पर फौरन कुछ बड़ा करने के लिए मेरा किसी से मुकाबला नहीं चल रहा है. मेरे कथानक में ज्यादा पात्रों के साथ ज्यादा बड़े नक्शे की बात होगी."

द गार्डियन के लिए काम करने वाले हार्डिंग इससे पहले विकिलीक्स के बारे में गार्डियन की किताब के सहलेखक रह चुके हैं. उन्होंने और गार्डियन ने भी उनकी किताब के बारे में कुछ भी बताने से इनकार कर दिया.

इस किताब के बारे में जानकारी रखने वाले एक शख्स ने पहचान गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि जब ग्रीनवाल्ड ने संस्था छोड़ी तो दोनों पक्षों के बीच यह तय हुआ कि कोई भी बाजार का फायदा नहीं उठाएगा और दोनों किताबें एक साथ बाजार में आएंगी.

स्नोडेन पर आरोप है कि उन्होंने अमेरिकी खुफिया एजेंसी एनएसए और ब्रिटेन सरकार के हजारों गुप्त दस्तावेज डाउनलोड किए. उनके जरिए निगरानी और जासूसी के मामले सामने आने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विवाद उठ खड़े हुए. इस खुलासे के बाद स्नोडेन ने अमेरिका छोड़ दिया और रूस में शरण ली है.

फिल्म भी

ग्रीनवाल्ड की किताब को मेट्रोपोलिटन बुक्स संस्था छाप रही है. यह हेनरी होल्ट एंड कंपनी की इकाई है. ग्रीनवाल्ड इसी पर आधारित एक फिल्म बनाने के बारे में भी बातचीत कर रहे हैं.

अक्टूबर में न्यू यॉर्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार फॉक्स, सोनी पिक्चर्स और केबल टीवी नेटवर्क एचबीओ भी इस बारे में फिल्म बनाने में दिलचस्पी ले रहे हैं. लेकिन ग्रीनवाल्ड ने कहा कि अभी तक फिल्म को लेकर कोई करार नहीं हुआ है.

1982 में एनएसए के बारे में पहली किताब 'द पजल पैलेस' लिखने वाले जेम्स बैमफोर्ड स्नोडेन के मामले में किताब लिखने से खुद को दूर रख रहे हैं. उन्होंने कहा, "किताबों के मामले में मुझे भीड़ पसंद नहीं, इसलिए मैं इसे छोड़ रहा हूं."

एसएफ/एजेए (रॉयटर्स)

DW.COM