1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

स्कूल में तोड़ फोड़ पर सरकार सख्त

दिल्ली के कॉन्वेंट स्कूल में तोड़ फोड़ के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलिस कमिश्नर को तलब किया. दिल्ली में ईसाई धर्म के प्रतिष्ठानों पर यह छठा हमला है. मोदी ने कहा दोषियों पर सख्त कार्रवाई करें.

उपद्रवियों का निशाना इस बार दक्षिण दिल्ली का होली चाइल्ड ऑक्जीलियम स्कूल बना. शुक्रवार तड़के कुछ नकाबपोश स्कूल में घुसे और उन्होंने वहां तोड़ फोड़ की और चोरी भी. स्कूल के स्टाफ के मुताबिक उपद्रवियों ने स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे भी तोड़े. प्रिंसिपल के कमरे में भी तोड़ फोड़ की गई.

इस घटना के बाद स्कूल को एक दिन के लिए बंद कर दिया गया. मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने स्कूल का दौरा किया है. ईरानी इसी स्कूल से पढ़ी हैं. ईरानी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से इस मामले पर नजर रखने का अनुरोध किया.

दिल्ली पुलिस के कमिश्नर बीएस बस्सी ने इसे चोरी का मामला बताया है, "हमारी जांच में पता चला है कि यह चोरी की घटना है. सीसीटीवी फुटेज भी यही बता रही है. जांच जारी है." दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने जा रहे अरविंद केजरीवाल ने इसकी कड़ी निंदा की है. केजरीवाल ने कहा कि, "इस तरह की हरकत कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी."

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना के बाद दिल्ली पुलिस के कमिश्नर को तलब किया. मोदी ने राजधानी में बढ़ रहे अपराध और उपद्रव की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताई. भारतीय अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक प्रधानमंत्री ने दिल्ली पुलिस से कहा है कि इन घटनाओं के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

प्रधानमंत्री ने गृह सचिव एलसी गोयल से भी तोड़ फोड़, उपद्रव और बढ़ती हिंसा पर खास ध्यान देने का कहा है. नवंबर 2014 से अब तक दिल्ली में ईसाई धर्म से जुड़े छह प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया गया है. बीते महीनों में दिल्ली में जगह जगह चर्चों पर हमले हुए हैं.

ओएसजे/आईबी (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री