1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सौरभ तिवारी को सचिन का आशीर्वाद!

झारखंड के सौरभ तिवारी को टीम इंडिया में चुने जाने की बेहद खुशी है. लेकिन उनके कोच समझते हैं कि यह सचिन तेंदुलकर का आशीर्वाद है कि सौरभ भारतीय टीम में शामिल हो पाए. धोनी के बाद तिवारी से झारखंड को दोहरी खुशी.

default

मुंबई इंडियन्स का जलवा

लंबे कद के खब्बू बल्लेबाज सौरभ तिवारी उस वक्त इंग्लैंड के यॉर्कशर में भारत ए के लिए खेल रहे थे, जब एलान हुआ कि उनका चयन टीम इंडिया के लिए कर लिया गया है. तिवारी पैविलियन लौटे तो उनके साथियों ने उन्हें यह खबर दी. सौरभ को लगा मानो लोग उनके साथ मजाक कर रहे हों. लेकिन बाद में जब उन्हें हकीकत का पता चला तो वह काफी समय तक कुछ कह ही नहीं पाए.

झारखंड के 20 साल के स्टाइलिश बल्लेबाज सौरभ तिवारी ने आईपीएल 3 में अपने जौहर से लोगों को मुग्ध कर दिया था. वह मुंबई इंडियन्स के लिए खेलते हैं. सौरभ अपनी कामयाबी को कोच काजल दास की सफलता बताते हैं. लेकिन खुद काजल कहते हैं कि यह सब तो मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का प्रताप है. कोच के मुताबिक मुंबई इंडियन्स के कप्तान ने सौरभ तिवारी पर इतना भरोसा जताया कि उन्हें वन डाउन बल्लेबाजी करने को कहा. उन्होंने खुद सौरभ तिवारी को टीम के लिए चुना. भला इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है.

Sachin Tendulkar

सचिन के साथ खेला सौरभ

सौरभ तिवारी का घरेलू क्रिकेट मैचों में अच्छा प्रदर्शन रहा है लेकिन उनके लिए आईपीएल मील का पत्थर साबित हुआ. वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे और अब टीम के अहम सदस्य बन गए हैं. तिवारी ने इस बार भी बेहतरीन बल्लेबाजी की और मुंबई इंडियन्स ने आईपीएल 3 में फाइनल में जगह बनाई.

भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बाद सौरभ तिवारी झारखंड के दूसरे क्रिकेटर हैं, जिन्हें टीम इंडिया की नीली जर्सी पहनने का मौका मिला है. उनके पिता सुनील कुमार तिवारी भी बेटे के चयन से अभिभूत हैं. कभी टाटा स्टील में काम करने वाले सुनील तिवारी का कहना है, "मेरे परिवार को जो खुशी मिल रही है, उसे बयान करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं. दो साल में उसने जैसा प्रदर्शन किया है, उससे हमें उम्मीद थी कि उसे टीम इंडिया में जगह मिल सकती है."

लंबे बालों वाले लंबे कद के सौरभ तिवारी बाएं हाथ से खुल कर बल्लेबाजी करने वाले माने जाते हैं. सनत जयसूर्या, ब्रेवो और सचिन तेंदुलकर जैसे सितारों के रहते हुए भी मुंबई इंडियन्स की टीम में उन्होंने अपनी पहचान बना ली थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः एन रंजन

संबंधित सामग्री