1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सोशल मीडिया पर जश्न और तंज

सोशल मीडिया पर भी पाकिस्तान बनने का जश्न मन रहा है, लेकिन जश्न के माहौल में कमेंट्स पर भारत पाक रिश्ते भी हावी हैं.

भारत और पाकिस्तान अंग्रेजों से आजादी की 68वीं वर्षगांठ मना रहे हैं. भारत में सोशल मीडिया पर पाकिस्तान इंडिपेंडेंस डे ट्रेंड कर रहा है, तो पाकिस्तान में उसके अलावा आजादी मुबारक, सुनहरा पाकिस्तान और पाक रिमेंबर्स कश्मीर.

राष्ट्रीय दिवस हर इंसान के लिए अतीत में झांकने और भविष्य पर गौर करने का मौका होता है. अनीस अहमद खान ने ऑल इंडिया रेडियो के लाहौर स्टेशन पर पाकिस्तान बनने की घोषणा की तस्वीर पोस्ट की है.

भारत में पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस पर हो रही टिप्पणियों में कश्मीर में पिछले दिनों में हुए आतंकी हमलों और सीमा पर लगातार हो रही झड़पों का असर साफ दिखता है. फिर भी कार्तिक कौशिक जैसे कुछ लोगों ने मासूम शुभकामनाएं दी हैं जबकि कुछ टिप्पणियों में कटाक्ष भी झलकता है और लोग पाकिस्तान को आतंकवाद के साथ जोड़कर देखते हैं.

इसके विपरीत मनु मयंक यमदग्नि जैसे यूजर ने इस बात पर दुख जताया है कि आजादी के लिए साथ लड़ने वाली पीढ़ी के बच्चे आज विभाजित हैं. कुछ लोगों के मन में कटुता इतनी गहरी है कि कुछ कहने का कोई मौका नहीं छोड़ते.

भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी रहे और दिल्ली लाहौर बस के पहले सफर में सवारी करने वाले सुधींद्र कुलकर्णी ने इस मौके पर लिखा है कि सीमा पार के हमारे भाईयों और बहनों को पता हो कि भारत एक संयुक्त, सुरक्षित और खुशहाल पाकिस्तान चाहता है. उन्होंने दो राष्ट्र के सिद्धांत के बदले दो राष्ट्र साथ साथ का आह्वान किया है.

कुमार गौरव जैसे ट्विटर यूजर ने ध्यान दिलाया है कि पाकिस्तान 14 अगस्त 1947 से पहले था ही नहीं तो आजादी कैसी और इसलिए जन्मदिन की बधाई दी है. एक और यूजर अंजलि ने शांति और सहिष्णुता में एकजुट होने की वकालत की है.

भारत और पाकिस्तान का जश्न कश्मीर के बिना अधूरा है. नई दिल्ली में पाकिस्तानी राजदूत के यह कहने के बाद कि पाकिस्तान कश्मीर की आजादी का समर्थन करता रहेगा भारत में हैशटैग अब्दुल बासित ट्रेंड कर रहा है. दूसरी ओर पाकिस्तान में पाक रिमेंबर कश्मीर के हैशटैग के साथ भारतीय कश्मीर में पाकिस्तानी झंडे लगाए जाने की तस्वीरें पोस्ट की जा रही हैं.

एमजे/आरआर

DW.COM

संबंधित सामग्री