1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सोमालिया में आत्मघाती हमला, 300 की मौत

सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में हुए आत्मघाती हमले में 300 लोगों की मौत हो गयी है. इस हमले में कम से कम 300 से ज्यादा लोग घायल हो गये हैं.

एक आत्मघाती हमलावर ने सोमालिया की राजधानी मोगादिशू के भीड़ भरे चौराहे पर विस्फोटकों से भरे एक ट्रक से धमाका किया. इस धमाके में 300 लोगों की मौत हो गयी. इस हमले को देश के इतिहास का सबसे भयानक हमला बताया जा रहा है. इस हमले में पुलिस ने शुरुआती जानकारी में बताया था कि 20 लोगों की मौत हुई है. लेकिन बहुत ही जल्द मौतों का आंकड़ा 263 के पार हो गया.

न्यूज एजेंसी डीपीए के मुताबिक सोमालिया की सरकार ने एक बयान में बताया कि इस धमाके में मारे गये 111 लोगों के शवों की पहचान भी नहीं की जा सकी.

रॉयटर्स के मुताबिक मोगादिशू के एक डॉक्टर एदन नूर ने बताया, "160 शवों की शिनाख्त नहीं की जा सकी है. इसलिए उन्हें सरकार ने दफना दिया है. बाकी मृतकों का अंतिम संस्कार उनके रिश्तेदारों ने करवाया. इस हमले में सैकड़ों लोग घायल हुये हैं.” उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से घायल कुछ मरीजों को एयरपोर्ट रवाना किया गया है. उनका इलाज तुर्की में होगा.

मोगादिशू के मेयर ताबिद आबिद मोहम्मद ने अस्पताल पहुंच कर घायलों से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि यह हमला कितना भयानक था. उनके मुताबिक, "इससे भयानक त्रासदी क्या हो सकती है कि मृतक के रिश्तेदार उनके शव के पास हों लेकिन उन्हें पहचान भी न पा रहे हों."

इस हमले से स्तब्ध लोग सोमालिया की सड़कों पर उतर कर विरोध कर रहे हैं. सैकड़ों लोग नारे लगाते हुए लाल और सफेद बैंडेज लगा कर इस हमले के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं. सोमालिया के एक सामाजिक कार्यकर्ता अबुकार शेख ने कहा, "इस वक्त ऐसा कोई घर नहीं है, जहां कोई आंसू न बहा रहा हो."

सोमालिया के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुल्लाही मोहम्मद ने तीन दिन के शोक की घोषणा की है. साथ ही रक्तदान के लिए लोगों से अपील की है. शहर के लोग विस्फोट से क्षतिग्रस्त हुई इमारतों के मलबे के नीचे दबे पीड़ितों की तलाश कर रहे हैं.

एसएस/एके (रॉयटर्स, डीपीए, एएफपी) 

DW.COM

संबंधित सामग्री