1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सोंगा से बचे फेडरर आखिरी चार में

रोजर फेडरर ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन में अपनी पहली परीक्षा पास कर ली है और जो-विलफ्रीड सोंगा की बाधा पार कर सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं. मेलबर्न पार्क पर यह उनका 10वां सीधा सेमीफाइनल है.

अब तक के चार मैचों में फेडरर ने एक भी सेट नहीं खोया था, लेकिन फ्रांस के आकर्षक सोंगा को पछाड़ने के लिए स्विस स्टार को काफी मशक्कत करनी पड़ी. 31 साल के फेडरर शांत बने रहे और सोंगा के हमलों को तोड़ते रहे. मुकाबला इतना कड़ा था, जो स्कोर खुद बता देता है. नतीजा 7-6, 4-6, 7-6, 3-6, 6-3 से सामने आया. अब उनका मुकाबला एंडी मरे से होगा.

जीत के बाद फेडरर ने कहा, "यह निश्चित तौर पर कड़ा अंत था, लेकिन सारा मुकाबला कड़ा था. किसी भी सेट का फैसला किसी तरफ जा सकता था." फेडरर ने कहा कि जीत की वजह से वे सौभाग्यशाली महसूस कर रहे हैं, लेकिन जो के खिलाफ खेलना बहुत खुशी की बात रही क्योंकि वे भी बहुत अच्छा खेले. "हम एक साल से साथ नहीं खेले थे, लेकिन मैं समझता हूं कि वह बहुत आक्रामक खेले."

Bildergalerie Tennis Australien Open 2013 Jo-Wilfried Tsonga Frankreich

जो-विलफ्रीड सोंगा

मैच में बने रहने की कोशिश में सोंगा ने चार मैच प्वाइंट बचाए, लेकिन फेडरर ने पांचवें में ऐसा स्मैश लगाया, जो सिर के ऊपर से निकल गया और जीत पक्की हो गई. मेलबर्न में पांचवां टाइटल जीतने का सपना जीवित रखा. दूसरी ओर 2008 में फाइनल में नोवाक जोकोविच से हार जाने वाले सोंगा निराश जरूर दिखे लेकिन उन्हें वापसी का भरोसा है, "मेरा थोड़ा मूड खराब है क्योंकि मैं हार गया. लेकिन दूसरी ओर मैंने अच्छा खेला. मैंने ठोस खेला. मैं हर बार मौजूद रहा. मैंने अपना सर्वोत्तम दिया. मुझे उस पर नाज है, लेकिन मैं हार कर खुश नहीं हूं. मुझे अगले टूर्नामेंट का इंतजार है, अगले ग्रैंड स्लैम का इंतजार है, एक और कोशिश के लिए."

मेलबर्न में पांच सेट के खेल में अपने पैरों को तकलीफ दे सकने की फेडरर की क्षमता पर संदेह किया गया था. और सोंगा के खिलाफ मैच में फेडरर यह कोशिश करते दिखे कि मैच जल्दी खत्म हो जाए. उन्होंने पहले ही सेट में सोंगा की सर्विस ब्रेक कर दी . लेकिन चुस्त सोंगा ने खुद को संभाला और फेडरर की सर्विस ब्रेक कर सेट को टाइ ब्रेकर में पहुंचा दिया. लेकिन आखिरकार सोंगा यह सेट हार गए. सोंगा ने दूसरे सेट में अपना खेल बेहतर किया और फेडरर को सिर्फ दो प्वाइंट बनाने दिया. यह सेट सोंगा के हाथों रहा. इस सेट की हार से परेशान फेडरर ने तीसरा सेट जीता, लेकिन चौथा सेट हार गए. रोमांचक मैच का फैसला पांचवें सेट में हुआ.

फेडरर ने कहा है कि उन्हें एंडी मरे के साथ अगले मैच का इंतजार है. अपने अंतिम मुकाबले में उन्होंने मरे को एटीपी टूअर फाइनल्स के सेमीफाइनल में हराया था. फेडरर ने कहा कि पिछले समय में मरे के साथ कुछ तगड़े मुकाबले हुए हैं, "लेकिन मैंने हमेशा उसके साथ मैचों का मजा लिया है क्योंकि वह बहुत टैक्टिकल हो जाता है."

एमजे/एजेए (रॉयटर्स)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री