1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सेना ने दिलाई नंगे बदन भर्ती परीक्षा

भारत में नौजवानों द्वारा परीक्षा में नकल करने की समस्या इतनी बढ़ गई है कि बिहार में सेना ने रंगरूटों से अंडरवियर में परीक्षा दिलवाई. सेना का कहना है कि उम्मीदवारों की भारी संख्या के कारण यह फैसला लेना पड़ा.

भारतीय मीडिया में प्रकाशित तस्वीरों में देखा जा सकता है कि सेना में क्लर्क की नौकरी पाने के इच्छुक नौजवान मैदान में जमीन पर बैठकर पर्चा भर रहे हैं और उनके शरीर पर अंडरवियर के अलावा कुछ और नहीं है. तस्वीरों में सेना के एक वर्दीधारी सुपरवाइजर को परीक्षा की निगरानी करते देखा जा सकता है. इस मामले पर हंगामा होने के बाद रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सेना प्रमुख से इस मामले में जवाब मांगा है.

समाचार एजेंसी एएफपी ने दैनिक इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से कहा है कि सैनिक सूत्रों के अनुसार यह कदम उम्मीदवारों की भारी संख्या को देखते हुए तलाशी का समय बचाने के लिए उठाया गया. भर्ती के लिए सेना भर्ती दिवस पर 1,000 से ज्यादा उम्मीदवार भर्ती केंद्र पर पहुंचे थे. सेना की भर्ती के मौकों पर अक्सर इतनी भीड़ हो जाती है कि उसे संभालना मुश्किल होता है. एक साल पहले पुलिस ने 1,000 ऐसे उम्मीदवारों को गिरफ्तार किया था जिन्होंने परीक्षा देने के लिए अपनी जगह किसी और को पैसे दे कर वहां भेजा था.

समाचार एजेंसी के अनुसार नई दिल्ली में सेना के एक प्रवक्ता ने रिपोर्ट पर टिप्पणी करने से मना कर दिया. परीक्षा में बैठने आए 1,100 उम्मीदवारों को उस वक्त झटका लगा जब परीक्षा केन्द्र पहुंचने पर उनसे कहा गया कि वे अपने कपड़े उतार कर रख दें. सबको यही करना पड़ा. उनसे बनियान भी उतरवा ली गई. एक उम्मीदवार ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, "हमारे पास निर्देशों को मानने के अलावा कोई विकल्प नहीं था, हालांकि ये अजीब लग रहा था."

अच्छे नंबर पाने या दुर्लभ सरकारी नौकरी पाने के लिए नकल करना भारत के कई राज्यों में बड़ी समस्या है. नौकरियों का अभाव झेल रहा बिहार प्रांत इस समस्या से सालों से जूझ रहा है. पिछले साल बिहार से स्कूल की परीक्षा के दौरान ऐसी तस्वीरें आई थीं जिसमें रिश्तेदारों को बहुमंजिली इमारत पर चढ़कर परीक्षार्थियों को पर्चा देने की कोशिश करते दिखाया गया था.

एमजे/आरपी (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री