1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

सेंचुरियन में भारत की सांसें फूली

सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका ने टीम इंडिया को भंयकर मुश्किल में डाल दिया है. भारत को सस्ते में समेटने के बाद मेजबान टीम ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी की और दूसरे ही दिन पहाड़ जैसा स्कोर बना डाला, मिली 230 रन की बढ़त.

default

मेहमानों को पस्त करने के बाद मेजबानों ने वनडे के अंदाज में धमाकेदार बल्लेबाजी की. पहले कप्तान ग्रैम स्मिथ और एल्विरो पीटरसन ने शतकीय साझेदारी निभाई. कप्तान ने 62 और पीटरसेन ने 77 रन ठोंके. स्कोर को 111 तक पहुंचाने के बाद हरभजन सिंह ने इस साझेदारी को तोड़ा. भज्जी ने स्मिथ को आगे बढ़ने पर मजबूर किया और धोनी ने उनकी गिल्लियां उड़ा दी.

पीटरसेन भी टर्बनेटर का शिकार बने. पीटरसेन गंभीर को कैच थमा बैठे. लेकिन दो झटके लगने के बाद भी रनों की रफ्तार नहीं थमी. हाशिम अमला और जाक कैलिस ने ऐसा खूंटा गाड़ा कि भारतीय गेंदबाज छटपटाते रह गए.

कैलिस ने 38वां टेस्ट शतक जड़ा और अमला को भी 12वां टेस्ट शतक ठोंकने में कोई परेशानी नहीं हुई. इनके बीच 200 रन की साझेदारी हो चुकी है और दोनों अब भी क्रीज पर पड़े हुए हैं. अमला 116 और कैलिस 102 रन पर खेल रहे हैं.

इस तरह दूसरे दिन का खेल खत्म होने पर दक्षिण अफ्रीका का स्कोर रहा दो विकेट के नुकसान पर 366 रन. भारतीय टीम 136 रन पर सिमट गई थी, लिहाजा मेजबानों को अब तक ही 230 रन की बढ़त मिल चुकी है. मैच में आगे तीन दिन का खेल और टीम इंडिया की मुश्किलें बाकी हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: महेश झा

DW.COM

WWW-Links