1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सेंचुरियन में कुर्सी बचाने उतरेगी टीम इंडिया

जबानी हमलों के बाद भारत और दक्षिण अफ्रीका कल से मैदान पर मुकाबला करेंगे. पहली और दूसरी नंबर की टेस्ट टीमों में जंग हैं और टीम इंडिया अपनी गद्दी बचाने के लिए पूरा दम लगा देगी. अफ्रीका में टीम का प्रदर्शन खराब रहा है.

default

भारतीय टीम के कोच गैरी कर्स्टन का कहना है कि यह क्रिकेट की दुनिया का सबसे बड़ा मुकाबला होने वाला है और भारत को इसमें कामयाबी हासिल करनी है. कर्स्टन खुद भी दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट खिलाड़ी रह चुके हैं. पिछले एक साल में भारत को किसी टेस्ट टीम ने कड़ी चुनौती नहीं दी है और दक्षिण अफ्रीका भी अपने ज्यादातर मैच जीतता आया है. इन दोनों टीमों का आपस में मुकाबला कम हुआ है.

ग्रेम स्मिथ की सेना उछाल लेती गेंदों पर भारतीय बल्लेबाजों की कमजोरी को भुनाने की कोशिश करेगी और दक्षिण अफ्रीका के पिचों पर उसे इसमें मदद भी मिलेगी. दुनिया के पहले नंबर के तेज गेंदबाज डेल स्टेन भी दक्षिण अफ्रीका के ही हैं.

Mahendra Singh Dhoni

भारतीयों को इस बात का ख्याल रखना है कि उन्होंने यहां पूरे एक दर्जन टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन जीत सिर्फ एक में ही मिली है. मुकाबले से पहले मनोवैज्ञानिक दबाव बनाने के लिए दक्षिण अफ्रीकी टीम भी इस बात को खूब उछाल रही है. सीरीज से पहले दोनों तरफ से शब्दों के तीर चले हैं, जिससे मुकाबला और रोचक होने की संभावना बढ़ गई है.

दक्षिण अफ्रीका के कोच कोरी फान जाइल ने दक्षिण अफ्रीका में भारत के खराब प्रदर्शन की ओर इशारा करते हुए कहा है कि रिकॉर्ड गलत नहीं बताते. लेकिन भारतीय कोच ने फौरन इसका जवाब दिया कि वक्त के साथ बहुत कुछ बदलता है.

शायद कर्स्टन ठीक ही कह रहे हैं क्योंकि आखिरी नौ टेस्ट सीरीज में से भारत को सात में जीत मिली है. लेकिन यह बात भी सच है कि इनमें से ज्यादातर भारतीय उप महाद्वीप में खेली गई हैं.