1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

सुष्मिता सेन ने कहा, शादी तो जरूर करूंगी

शादी के बारे में बार बार सवाल पूछे जाने से पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन खासी परेशान हैं. आश्वासन देने की मुद्रा में आते हुए सुष्मिता ने कहा है कि वह एक दिन जरूर शादी करेंगी लेकिन कब यह उन्होंने नहीं बताया है.

default

मिस्टर राइट की तलाश

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और तेज गेंदबाज वसीम अकरम के साथ संबंधों पर लग रही अटकलों को सुष्मिता ने खारिज करते हुए कहा कि वह इस बारे में बात नहीं करना चाहती. "यह बिलकुल बकवास बात है. मैं इस बारे में बात नहीं करूंगी." दो बच्चियों को गोद लेकर उनका पालन पोषण करने वाली 34 वर्षीय सुष्मिता सेन ने कहा कि वह एक दिन शादी भी करेंगी.

दिल्ली में एक एस्टेट ग्रुप के प्रचार कार्यक्रम में शामिल होने आई सुष्मिता ने बताया, "मैं शादी जरूर करूंगी लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ऐसा किसी खास उम्र में होगा. मैं यह बताते बताते थक चुकी हूं कि मेरा भावी पति कैसा होगा. जब मुझे अपने लिए सही व्यक्ति मिल जाएगा मैं उसे आप सबके सामने लाकर खड़ा कर दूंगी."

सुष्मिता से जब पूछा गया कि अपने बूते निजी और पेशेवर जिंदगी को संभालना क्या कभी मुश्किल साबित नहीं होता तो सुष्मिता ने कहा, "जब आपकी जिंदगी में प्यार होता है और इज्जत होती है तो आप काम करते हैं. हां, कभी कभी मुझे थकान महसूस होती है लेकिन जब मैं अपने आसपास देखती हूं और महसूस करती हूं कि मैं कितनी खुशनसीब हूं तो फिर मुझे काम करने का संबल मिलता है."

लेकिन यह साल सुष्मिता के लिए आसान नहीं रहा है. मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में प्रतिभागियों के चयन के लिए सुष्मिता ने आई एम शी नामके प्लेटफॉर्म की शुरुआत की लेकिन उनकी चुनी हुई प्रतिभागी उशोषी सेनगुप्ता पहले 15 में भी जगह नहीं बना पाई. "वो लोग जो विफलताओं का सामना करने की कोशिश करते हैं, विफलताएं उनके पास आती हैं. जितना ज्यादा आप चीजों को समझने की कोशिश करते हैं, वे उतना मुश्किल होती चली जाती हैं. इसलिए गलतियां करते रहिए और सीखते रहिए."

स्लमडॉग मिलियनेयर की स्टार फ्रीडा पिंटो ने कुछ दिनों पहले कहा कि 1994 में मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने वाली सुष्मिता सेन को देखकर उन्हें अभिनेत्री बनने की प्रेरणा मिली. सुष्मिता का कहना है कि यह देखकर खुशी होती है कि जब आप खुद किसी दूसरे के लिए प्रेरणा बन जाते हैं. जिंदगी अपना चक्र पूरा करती है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: महेश झा

DW.COM

WWW-Links