1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सीरिया में 3,800 मासूम मारे जा चुके हैं, वार्ता टूट के कगार पर

सीरियाई सेना ने शुक्रवार को अलेप्पो में जारी युद्ध में बढ़त हासिल की है. सेना को रूस के हवाई हमलों का समर्थन है. युद्ध पर निगरानी रख रही एजेंसियों ने रूसी हवाई हमले में एक साल में 3,800 नागरिकों की मौत की बात कही है.

डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (एमएसएफ) ने सीरिया सरकार और उसके सहयोगी रूस पर अलेप्पो शहर में "ब्लडबाथ" यानी खून की होली खेलने का आरोप लगाया है. एमएसएफ का कहना है कि विद्रोहियों के कब्जे वाले शहर के पूर्वी इलाके को पूरी तरह तबाह कर दिया है.

सीरिया की सेना को अलेप्पो में जारी लड़ाई में दो फ्रंट पर बढ़त मिली है. दूसरी ओर सीरिया युद्ध में विपरीत खेमों में लड़ रहे अमेरिका और रूस के बीच अब बातचीत भी रद्द होने की कगार पर पहुंच रही है. सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के मॉनीटर्स और सीरिया के सरकारी मीडिया के अनुसार 2013 से विद्रोहियों के कब्जे वाले अलेप्पो के अस्पताल को सरकारी सेना ने अपने कब्जे में ले लिया है.

#tweet:781483715709075456#

सेना विद्रोहियों के कब्जे वाले सारे इलाके को दुबारा अपने हाथ में लेने के लिए लड़ रही है. सरकारी मीडिया की मानें तो यहां आठ नागरिकों की जान गई है और 35 लोग घायल हुए हैं. 'द ऑब्जर्वेटरी' ने बताया है कि शुक्रवार को हवाई हमले युद्ध के मैदान में हो रहे हैं जबकि पहले के दिनों में नागरिक ठिकानों को निशाना बनाया गया था.

मार्च 2011 से जारी हिंसा में ये अब तक की सबसे हिंसक कार्रवाई है. अब तक सीरियाई हिंसा की चपेट में आने से तीन लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और देश की करीब आधी आबादी विस्थापित हो चुकी है. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और जर्मनी की चांसलर अंगेला मैर्केल ने गुरुवार को अलेप्पो पर रूस की हवाई कार्रवाई की निंदा की. अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने कहा कि वॉशिंगटन रूस के साथ "बातचीत स्थगित करने की कगार पर" पहुंच चुका है.

रूस सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद का प्रमुख सहयोगी है और ठीक एक साल पहले उसने असद शासन की मदद के लिए सीरिया में सैनिक कार्रवाई शुरू की थी. 'द ऑब्जर्वेटरी' के अनुसार इस दौरान वहां करीब 9,300 लोग मारे गए हैं. इनमें 3,804 नागरिक और 5,500 से अधिक जिहादी एवं लड़ाके शामिल हैं. इसके अलावा कम से कम 20,000 नागरिक रूसी हवाई हमलों की चपेट में आने के कारण घायल हो गए हैं.

रूस ने इन आरोपों से इंकार किया है कि उसके हवाई हमलों के कारण हजारों आम नागरिक मारे गए हैं. ब्रिटेन स्थित ऑब्जर्वेटरी के आंकड़ों को खारिज करते हुए क्रेमलिन के प्रवक्ता ने कहा, "हम सीरिया की स्थिति के बारे में यूके की इस संस्था से आ रही सूचना को भरोसेमंद नहीं मानते."  'द ऑब्जर्वेटरी' सीरिया में अपने स्रोतों के नेटवर्क से जानकारी जुटाती है. अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय दबाव के बावजूद मॉस्को ने कहा है कि वह सीरिया में बम गिराना जारी रखेगा.

आरपी/वीके (एएफपी,एपी)

संबंधित सामग्री