1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सीबीआई हिरासत से बचे अमित शाह

गुजरात के गिरफ़्तार पूर्व गृह राज्यमंत्री अमित शाह को आज थोड़ी राहत मिली, जब एक विशेष अदालत ने पांच दिन की हिरासत के लिए सीबीआई की हिरासत ठुकरा दी. उन्हें पिछले महीने गिरफ्तार किया गया है.

default

वैसे अमित शाह 11 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में रहेंगे. उसके बाद उनकी जमानत की अर्जी पर फ़ैसला होने वाला है. सोहराबुद्दीन शेख के मामले में एनकाउंटर के नाटक के कारण उन पर हत्या, अपहरण और षड्यंत्र के आरोप लगाए गए हैं.

25 जुलाई को अदालत में आत्मसमर्पण के बाद से अमित शाह न्यायिक हिरासत में हैं. गुजरात की साबरमती जेल में सीबीआई की ओर से तीन दिनों तक उनसे पूछताछ की गई थी. सीबीआई का आरोप है कि शाह कोई भी सूचना देने से इनकार कर रहे हैं. इसके बाद उनकी रिमांड के लिए अदालत में याचिका दायर की गई थी.

Innenminister Amit Shah Indien

बच गए हिरासत से

सीबीआई के वकील ने दावा किया है की उन्हें अमित शाह से इस मामले से जुड़े हुए महत्वपूर्ण दस्तावेज़ प्राप्त करने हैं, जिनके लिए उन्हें रिमांड पर लेना ज़रूरी हो गया है.

इसके बावजूद अमित शाह की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं. इस बीच फर्जी एनकाउंटर में सोहराबुद्दीन के साथ मारे गए तुलसी प्रजापति की मां ने कहा है कि उनके बेटे ने शिकायत की थी कि अमित शाह और आईपीएस अफ़सर बंजारा उसे परेशान किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने इस सिलसिले में तीन लोगों का ज़िक्र किया था, जिनमें बंजारा और अमित शाह शामिल थे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: ए जमाल

DW.COM