1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सिर्फ अपना मैच खेलें...बस

इंग्लैंड में फुटबॉल खेलने वाले खिलाड़ी, क्लब मैनेजर या मैच अधिकारी अब दुनिया के किसी भी हिस्से में हो रहे फुटबॉल मुकाबले में सट्टा नहीं लगा सकेंगे. नए नियम ने खिलाड़ियों और कोचों के परिवार वालों व दोस्तों को भी कसा.

फुटबॉल में सट्टेबाजी को रोकने के लिए इंग्लैंड फुटबॉल एसोसिएशन ने नए नियम तय कर दिए हैं. नियमों के मुताबिक खिलाड़ी, मैनेजर, क्लब कर्मचारी और मैच अधिकारी अब दुनिया भर में चल रहे किसी भी फुटबॉल मैच पर सट्टा नहीं लगा सकेंगे. इससे पहले सिर्फ अपने क्लब से जुड़े टूर्नामेंट में सट्टा लगाने पर प्रतिबंध था.

इंग्लिश फुटबॉल एसोसिएशन के महासचिव अलेक्स हॉर्न के मुताबिक, "हमें इस देश में खेल में ईमानदारी पर गर्व है और यह बहुत जरूरी है कि मैदान पर हो रहे खेल की सत्यनिष्ठा पर भरोसा करें. देश में कुछ मामले और मुकदमे ऐसे आ चुके हैं और हम इन्हें फिर से नहीं देखना चाहते."

मैचों के साथ ही मैनजरों की नियुक्ति और खिलाड़ियों के ट्रांसफर की खबरों पर भी सट्टा लगाना गैरकानूनी होगा. क्लबों और खिलाड़ियों को जागरूक करने के लिए एक वीडियो तैयार किया गया है. इसे क्लबों और फुटबॉल अकादमियों को दिया जा रहा है. वीडियो तैयार कराने वाले प्रोफेशनल फुटबॉलर्स एसोसिएशन के मुताबिक अगर खिलाड़ियों के दोस्त या परिवार वाले चोट को लेकर सट्टा लगाएंगे तो यह भी कानून का उल्लंघन होगा.

ब्रिटेन में आम लोग खेलों पर सट्टा लगा सकते हैं, लेकिन मुश्किल तब होने लगती है जब सट्टेबाज खिलाड़ियों के संपर्क में आकर मैच के दौरान खेल को प्रभावित करने लगते हैं. यूरोप में चार साल पहले क्लब फुटबॉल लीग मुकाबलों में बड़े पैमाने पर फिक्सिंग के मामले सामने आए. जांच का दायरा जर्मनी, इटली, ब्रिटेन, फ्रांस और सिंगापुर तक फैला हुआ है.

ओएसजे/एमजे (रॉयटर्स)